RO.NO.12822/173
राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

बारिश के बीच ही सिंधिया ने लोगों की समस्याएं सुनीं, अशोकनगर में टीन की छत गिर गई

RO.NO.12784/141

भोपाल

मध्यप्रदेश में अब तक 6 इंच बारिश हो चुकी है। अभी भी सामान्य से आधा इंच पानी कम गिरा है। अगले 24 घंटे एमपी में अच्छी बारिश होगी। शिवपुरी, रायसेन, सतना रीवा, नीमच, श्योपुरकलां, भिंड समेत 13 जिलों में मौसम विभाग ने भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन समेत प्रदेश के अन्य जिलों में भी पानी गिरेगा। शुक्रवार को सुबह से ही इंदौर में सुबह से बादल छाए रहे।

अगले 24 घंटे कई जिलों में अच्छी बारिश
मौसम वैज्ञानिक के मुताबिक, दक्षिणी गुजरात के ऊपर साइक्लोनिक सर्कुलेशन सिस्टम एक्टिव है। ट्रफ लाइन भी गुजर रही है। इससे MP में अरब सागर और बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है। अगले 24 घंटे में कई जिलों में 5 से 8 सेंटीमीटर तक बारिश हो सकती है। 48 घंटे के बाद सिस्टम कमजोर होगा, लेकिन हल्की बारिश जारी रहेगी। 7 जुलाई को सिस्टम फिर स्ट्रॉन्ग होगा। इससे 8 जुलाई को भारी बारिश हो सकती है।

इन जिलों में तेज बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग ने शुक्रवार को  सतना, रीवा, मऊगंज, सीधी, नीमच, श्योपुरकलां, भिंड, शिवपुरी, रायसेन, सिंगरौली, मैहर, पन्ना, छतरपुर, भोपाल में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है। इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन समेत प्रदेश के सभी जिलों में भी आंधी, गरज-चमक और बारिश की स्थिति बनी रहेगी।

सतना और सागर में अच्छी बारिश
सतना में गुरुवार को अच्छी बारिश हुई। 2 इंच से ज्यादा पानी गिरा। सागर में 1 इंच से अधिक बारिश हुई। भोपाल, धार, गुना, ग्वालियर, नर्मदापुरम, खंडवा, नर्मदापुरम जिले के पचमढ़ी, रतलाम, उज्जैन, छिंदवाड़ा, दमोह, जबलपुर, मंडला, छतरपुर जिले के नौगांव, सिवनी, टीकमगढ़, उमरिया और बालाघाट के मलाजखंड में भी बारिश हुई।

जानें अब तक कहां, कितनी बारिश
मध्यप्रदेश में अब तक 6 इंच बारिश हो चुकी है, जबकि 6.5 इंच बरसात होनी थी। औसत 9% बारिश कम हुई है। भोपाल में सबसे ज्यादा बारिश हुई है। राजधानी में अब तक साढ़े 10 इंच पानी गिन चुका है। जो कुल बारिश की 62% है। इंदौर  में 7.33 इंच पानी गिर चुका है, जो कुल बारिश का 23% है।  जबलपुर में सामान्य से 12% कम बारिश हुई है। 6.7 इंच बारिश हुई है। उज्जैन में 5.6 इंच बारिश हो चुकी है। ग्वालियर में औसत से 67% ज्यादा बारिश हो चुकी है। उमरिया में सबसे कम 58 प्रतिशत बारिश हुई है।

इन जिलों में इतनी बारिश
कटनी में 3.79, नरसिंहपुर 5.58, छिंदवाड़ा 7.75, सिवनी 8.94, मंडला 9.41, बालाघाट 5.85, डिंडोरी 9.70 इंच पानी गिरा। सीहोर 6.45, राजगढ़ 6.20, रायसेन 5.25 और विदिशा में 6.88  इंच पानी बरसा। धार 5.93, झबुआ 6.33, अलीराजपुर 7.15, बड़वानी 5.73, बुरहानपुर 6.51, खंडवा 6.49 और खरगोन में 4.79 इंच बारिश हुई।

इंदौर, नर्मदापुरम और रतलाम में बादल छाए हुए हैं। अशोकनगर में देर रात तक हुई तेज बारिश से नाले उफान पर आ गए हैं। सावन और खजुरिया गांव की पुलिया के ऊपर पानी बह रहा है। ट्रैफिक रुका है। शहर की शंकर कॉलोनी में एक घर की टीन की छत गिर गई।

मौसम विभाग ने शुक्रवार को रीवा, नीमच, श्योपुरकलां, भिंड, शिवपुरी, रायसेन, सतना समेत 13 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर, उज्जैन समेत प्रदेश के अन्य जिलों में भी पानी गिरेगा।

सीनियर मौसम वैज्ञानिक डॉ. वेदप्रकाश सिंह ने बताया कि अगले 24 घंटे में कई जिलों में 5 से 8 सेंटीमीटर तक बारिश हो सकती है। 48 घंटे के बाद सिस्टम कमजोर होगा, लेकिन हल्की बारिश जारी रहेगी। 7 जुलाई को सिस्टम फिर स्ट्रॉन्ग होगा। इससे 8 जुलाई को भारी बारिश हो सकती है।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

RO.NO.12784/141

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button