RO.NO.12822/173
राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

35 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति वर्ष में एक बार स्वास्थ्य की जाँच करायें : उपमुख्यमंत्री शुक्ल

RO.NO.12784/141

भोपाल

उप मुख्यमंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल ने रीवा कलेक्ट्रेट के मोहन सभागार में स्वस्थ रीवा, समृद्ध रीवा अभियान की समीक्षा की। उन्होंने जिले में आयोजित विशेष शिविरों में चिन्हित रोगियों के उपचार का फॉलोअप लिया। उप-मुख्यमंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि जाँच केन्द्रों में संबंधित की रिपोर्ट को नियत समय पर उपलब्ध करायें। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिले के आमजनों के स्वास्थ्य परीक्षण में किसी भी प्रकार की कमी बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

उप-मुख्यमंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के सभी स्वास्थ्य केन्द्र व्यवस्थित रूप से चलें इसकी ज़िम्मेदारी संबंधित बीएमओ तथा सीमएचओ की है। उन्होंने सगरा, भिटवा, भटलो में स्वास्थ्य व्यवस्था ठीक न होने पर अप्रसन्नता व्यक्त की तथा कमियों को दूर करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिले के 35 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को वर्ष में एक बार अपने स्वास्थ्य की जाँच कराने के लिए प्रेरित करने हेतु जागरूकता अभियान चलाएं। ताकि बीमारियों का समय से चिन्हांकन कर समुचित उपचार सुनिश्चित किया जा सके। उन्होंने शासकीय स्वास्थ्य कर्मियों व जाँच के लिए नियुक्त एजेंसियों के प्रतिनधियों के बीच समन्वय बनाकर कार्य करने के निर्देश दिए।

स्वस्थ रीवा मॉडल को प्रदेश स्तर में ले जायेंगे

उप-मुख्यमंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि कैंसर जाँच शिविर में जिन व्यक्तियों में कैंसर के लक्षण पाए गए थे उनका विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। इंदौर के अरविंदो अस्पताल की टीम द्वारा आगामी दिनों में स्वास्थ्य शिविर आयोजित किए जाएंगे। उप-मुख्यमंत्री श्री शुक्ल ने जनपद, तहसील एवं जिले के बड़े बाजार वाले क्षेत्रों में शिविर आयोजन के लिए कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए ताकि अधिक से अधिक लोगों का कैंसर की जाँच सुगमता से कराई जा सके। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वस्थ रीवा और समृद्ध रीवा का संकल्प लेकर लोगों के स्वास्थ्य की जाँच का अभियान अनवरत चलता रहेगा और हम रीवा को स्वस्थ रीवा बनाने का संकल्प पूरा करेंगे और अन्य जिले भी इसका अनुसरण करके स्वस्थ मध्यप्रदेश बनायेंगे। उन्होंने नशामुक्त रीवा बनाने के लिए आमजनों को जागरूकता कार्यक्रम में सहभागी बनने तथा कोरेक्स व अन्य प्रकार के नशे से दूर रहने के लिए लोगों को प्रेरित करने की बात कही।

उल्लेखनीय है कि रीवा में आयोजित शिविरों में कुल 50 हज़ार 214 व्यक्तियों के स्वास्थ्य की जाँच की गई। जिनमें 20 हज़ार 650 पुरूष व 29 हज़ार 564 महिलाएं शामिल हैं। शिविर में सीवियर एनीमिया से 479, माडरेट एनीमिया से पीड़ित 2356, डायबिटीज के 1591, हाईपर कोलेस्ट्रीनिया के 2336, किडनी रोग के 2492 तथा विटामिन डी की कमी के 17 हज़ार 576 पीड़ित चिन्हित किए गए थे। जिनको समुचित उपचार की सुविधा दी जा रही है। इसी प्रकार वृहद कैंसर शिविर में रीवा जिले के 40 संभावित कैंसर रोगी पाए गए थे। इनमें से 23 स्तन कैंसर तथा 17 मुख कैंसर के पीड़ित थे। इनमें से 17 व्यक्तियों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। कलेक्टर श्रीमती प्रतिभा पाल, अध्यक्ष नगर निगम व्यंकटेश पाण्डेय सहित जनप्रतिनिधि, स्वयंसेवी संगठनों के प्रतिनिधि, स्वास्थ्य विभाग और अन्य संबंधित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

RO.NO.12784/141

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button