RO.NO.12822/173
राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

‘ राजस्थान में पीएम मोदी का अशोक गहलोत पर हमला, ‘तीन दिसंबर, जादूगर ही छूमंतर…

RO.NO.12784/141

जयपुर
राजस्थान में कुछ ही दिन में चुनाव होने वाले हैं, जिसे लेकर सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी हैं। इसी कड़ी में भारतीय जनता पार्टी के चुनावी तैयारियों को धार देने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी लगातार रैलियां कर रहे हैं। मंगलवार को करौली में जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कांग्रेस पर जमकर हमला बोला।

अशोक गहलोत पर पीएम मोदी का तंज
पीएम मोदी ने अशोक गहलोत पर तंज कसते हुए कहा कि राजस्थान से कांग्रेस की विदाई पक्की है। कांग्रेस के जादूगर साहब अब कुछ ही दिन के लिए कुर्सी पर हैं। करौली और धौलपुर जादूगर को साफ-साफ संदेश दे रहे हैं। उन्होंने नारा भी दिया, तीन दिसंबर – जादूगर ही छूमंतर, तीन दिसंबर – कांग्रेस ही छूमंतर। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं आज यहां करौली और राजस्थान के लोगों को कांग्रेस के पंजे से सावधान करने के लिए आया हूं। वैसे कांग्रेस के एक प्रधानमंत्री ने स्वयं सार्वजनिक रूप से ये स्वीकार किया था कि दिल्ली से एक रुपया निकलता है, तो गांव जाते जाते वो 15 पैसे रह जाते हैं। ऐसा उन्होंने उस समय कहा था, जब पंचायत से पार्लियामेंट तक कांग्रेस का ही राज था।

    मैं पूछना चाहता हूं कि वो कौन सा पंजा था, जो रुपये के 15 पैसे कर देता था। कांग्रेस के पंजे ने राजस्थान के लोगों को त्रस्त कर दिया है। इसलिए जनता ने भी ठान लिया है कि अब कांग्रेस को वापस नहीं आने देना है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जब से राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनी है, तब से यहां हर तीज-त्योहार के दौरान दंगे होते रहे हैं। एक तरह से हर साल यहां कोई न कोई बड़ा दंगा होता ही रहा है। अक्टूबर 2019 में टोंक में बड़ा दंगा, 2020 में डूंगरपुर में, 2021 में झालावाड और बारां में बड़े दंगे, 2022 में फिर कांग्रेस ने जोधपुर और करौली को दंगों की आग में झोंक दिया।

पीएम मोदी ने कहा कि पिछ्ले साल नववर्ष की शोभायात्रा के दौरान करौली में जो हुआ, आप उसे भूल सकते हैं क्या? यहां पत्थरबाजी में कितने ही लोग लहूलुहान हो गए, कितनों का व्यापार-कारोबार चौपट हो गया। ये हमले इसलिए नहीं रुकते हैं, क्योंकि दंगो के आरोपी मुख्यमंत्री के आवास पर दावत करते हैं। जो अपराधियों को दावत देती है, क्या वो कांग्रेस आपकी रक्षा कर सकती है? राजस्थान महिलाओं की मान-मर्यादा के लिए मर मिटने वालों की धरती है, लेकिन जब कानून का भय नहीं रहता, तब सबसे ज्यादा नुकसान हमारी माताओं-बहनों-बेटियों को उठाना पड़ता है। यही राजस्थान के हर कोने में हुआ है। यहां पास के चाकसू और नागौर के लाडनूं में जो हुआ है, वो दिल दहलाने वाला है। यहां की कांग्रेस सरकार ने अपराधियों पर कार्रवाई की बजाय उन्हें अपराध करने की खुली छूट दे रखी है।

 
पीएम मोदी ने कहा कि वीरों की इस धरती पर अनेक वीर-वीरांगनाएं हैं। हमारे पास भक्त प्रह्लाद और राणा सांगा की प्रेरणाएं हैं, लेकिन कांग्रेस के लिए सिर्फ और सिर्फ एक परिवार ही सबकुछ है। कांग्रेस ने गली-चौराहे, स्कूल, अस्पताल, सरकारी योजनाएं सबकुछ एक परिवार के नाम पर ही कर दी हैं। मैं आज राजस्थान को ये भरोसा देता हूं कि भाजपा सरकार महिलाओं के साथ अत्याचार करने वालों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करेगी। जेपी नड्डा मंगलवार को राजस्थान के सीकर जिला की धोद विधानसभा में आयोजित विजय संकल्प सभा में शामिल हुए।
 

'मुख्यमंत्री कहते हैं कि राजस्थान में महिलाएं झूठ बोलती हैं'
प्रधानमंत्री ने कहा कि यहां के मुख्यमंत्री कहते हैं कि राजस्थान में महिलाएं झूठ बोलती हैं, झूठे केस दर्ज कराती हैं। उनके एक पक्के दरबारी तो यहां के हर पुरुष को कलंकित करने के बयान देते हैं। आप मुझे बताइए, क्या कोई समाज किसी दुष्कर्मी को मर्द कह सकता है? लेकिन मुख्यमंत्री जी के दरबारी सार्वजनिक रूप से कहते हैं कि ये तो मर्दों की भूमि है, दुष्कर्म होना स्वाभाविक है।

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

RO.NO.12784/141

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
× How can I help you?