RO NO. 12737/143
राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

लाड़ली बहनों को 9वीं किस्त,रानी दुर्गावती की प्रतिमा का अनावरण

RO NO. 12737/143

भोपाल

मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने शनिवार को प्रदेश की एक करोड़ 29 लाख लाड़ली बहनों के खाते  में 1576 करोड़ रुपए की राशि डाली। वहीं 56 लाख सामाजिक सुरक्षा पेंशनरों के बैक खातों में सिंगल क्लिक से 340 करोड़ रुपए की राशि ट्रांसफर की। उन्होंने 134 करोड़ के विकास कार्यो का भूमिपूजन और लोकार्पण भी किया।

दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार झाबुआ में प्रदेश को कई सौगाते देने जा रहे हैं। इसके साथ ही वे मध्य प्रदेश के साथ ही गुजरात और राजस्थान की आदिवासी बाहुल्य लोकसभा क्षेत्रों को भी साधने का काम करेंगे। झाबुआ को पश्चिम मध्यप्रदेश की आदिवासी राजनीति का केंद्र है। यहां के कार्यक्रम के जरिए नरेंद्र मोदी पश्चिम मध्यप्रदेश के धार, रतलाम और इससे सटे गुजरात के दाहोद, महिसागर एवं पंचमहाल जिले हैं और राजस्थान के बांसवाड़ा, डूंगरपुर और प्रतापगढ़ जिलों को प्रभावित करेंगे।  यह सभी भील आदिवासी बहुल्य इलाके हैं। झाबुआ को भीलों की राजनीति और सांस्कृतिक पहचान की दृष्टि से भीलों की राजधानी  माना जाता है। लोकसभा के लिहाज से देखें तो पश्चिम मध्यप्रदेश की  आदिवासी समुदाय के लिए आरक्षित दो सीटें, गुजरात और राजस्थान के दो-दो  लोकसभा  झाबुआ के आसपास आती हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झाबुआ दौरे पर करीब 7500 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित करेंगे और आधारशिला रखेंगे।  साथ ही विशेष पिछड़ी जनजातियों की लगभग 2 लाख महिला लाभार्थियों को आहार अनुदान की मासिक किस्त वितरित करेंगे,साथ ही पीएम स्वामित्व योजना के लाभार्थियों को 1.75 लाख अधिकार अभिलेख वितरित करेंगे। झाबुआ में पीएम मोदी टंट्या मामा भील विश्वविद्यालय की आधारशिला रखेंगे, जो क्षेत्र में उच्च आदिवासी बहुल जिलों के लिए एक समर्पित विश्वविद्यालय है। 170 करोड़ रुपये की लागत से विकसित होने वाला यह विश्वविद्यालय छात्रों के समग्र विकास के लिए विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचा प्रदान करेगा। 

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत 550 से अधिक गांवों के लिए धनराशि हस्तांतरित करेंगे। जिसका उपयोग आंगनवाड़ी भवन, उचित मूल्य की दुकानों, स्वास्थ्य केंद्रों, स्कूलों में अतिरिक्त कमरे, आंतरिक सड़कों सहित विभिन्न प्रकार की निर्माण गतिविधियों के लिए किया जाएगा। पीएम रतलाम और मेघनगर रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास की आधारशिला भी रखेंगे। प्रधानमंत्री झाबुआ में सीएम राइज स्कूल का शिलान्यास करेंगे। स्कूल छात्रों को स्मार्ट क्लास, ई-लाइब्रेरी जैसी आधुनिक सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रौद्योगिकी को एकीकृत करेगा। जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया जाएगा उनमें तलावड़ा परियोजना शामिल है, जो धार और रतलाम के एक हजार से अधिक गांवों के लिए पेयजल आपूर्ति योजना है और अटल कायाकल्प और शहरी परिवर्तन मिशन   के तहत 14 शहरी जल आपूर्ति योजनाएं, जिससे मध्य प्रदेश के कई जिलों में 50,000 से अधिक शहरी परिवार लाभान्वित हो रहे हैं।

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

RO NO. 12737/143

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button