RO NO. 12737/143
राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

आज पीएम मोदी आ रहे झाबुआ, 15 हजार झंडों से सजेगा सभास्थल

RO NO. 12710/141

झाबुआ

 जनजातीय मोर्चा के राष्ट्रीय कार्यक्रम में झाबुआ पधार रहे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आगमन को लेकर तैयारियां लगभग पूरी हो चुकी है। फिर भी भाजपा संगठन इसमें छोटी से छोटी व्यवस्थाओं को लेकर मुस्तैद है।

झाबुआ जिला भाजपा मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने बताया कि आज स्थानीय हवाई पट्टी गोपालपुरा में व्यवस्थाओं का वन एवं पर्यावरण मंत्री नागरसिंह चौहान, कार्यक्रम प्रभारी जयपालसिंह चावड़ा, संभागीय संगठन प्रभारी राघवेन्द्र गोतम, प्रदेश मंत्री संगीता सोनी, जिला प्रभारी हरिनारायण यादव, भाजपा जिलाध्यक्ष भानु भूरिया, किशोर शाह, लक्ष्मणसिंह नायक, ओमप्रकाश शर्मा, दौलत भावसार, शैलेश दुबे, जयदीप पटेल सहित सैकड़ों भाजपा नेताओं एवं पदाधिकारियों ने सभास्थल का निरीक्षण कर किया। यहां जल, अनुशासन, वीवीआईपी पास, ग्रीन रूम, जनजातीय समुदाय के संतों के सम्मान, झंडा टोपी वितरण कार्य आदि व्यवस्थाओं के चाक चौबंद एवं सुनियोजित तरीके से करने के लिए जयपालसिंह चावड़ा ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया।

चावड़ा ने कार्यकर्ताओं से चर्चा में कहा कि सभास्थल पर लगभग 15 हजार झंडे लगाकर स्थल को सुसज्जित किया जा रहा है तथा सभा स्थल के आसपास 50 से अधिक पानी के टैंकर, 200 से अधिक केम्पर व आसपास के प्रत्येक जिले में 500 वीआईपी पास उपलब्ध करवाए जा रहे हैं।

कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि वीआईपी पास व्यवस्था में ड्राइवर का आधार कार्ड भी जरूरी किया गया है। वीआईपी पास धारक अपना आधार कार्ड अवश्य साथ में लेकर ही पधारें जिससे उन्हें किसी प्रकार की परेशानी नहीं होगी। संभागीय संगठन प्रभारी राघवेन्द्र गोतम ने सभी कार्यकर्ताओं से अपनी दायित्व का इमानदारी से निर्वहन करने का आग्रह किया।

इस दौरान पीएम मोदी करीब 7500 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित करेंगे और आधारशिला रखेंगे. साथ ही विशेष पिछड़ी जनजातियों की लगभग 2 लाख महिला लाभार्थियों को आहार अनुदान की मासिक किस्त वितरित करेंगे. मध्य प्रदेश की विभिन्न विशेष पिछड़ी जनजातियों की महिलाओं को पौष्टिक भोजन के लिए 1,500 रुपये प्रति माह प्रदान किए जाते हैं. साथ ही पीएम स्वामित्व योजना के लाभार्थियों को 1.75 लाख अधिकार अभिलेख वितरित करेंगे.

झाबुआ में पीएम मोदी टंट्या मामा भील विश्वविद्यालय की आधारशिला रखेंगे, जो क्षेत्र में उच्च आदिवासी बहुल जिलों के लिए एक समर्पित विश्वविद्यालय है. 170 करोड़ रुपये की लागत से विकसित होने वाला यह विश्वविद्यालय छात्रों के समग्र विकास के लिए विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचा प्रदान करेगा. प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत 550 से अधिक गांवों के लिए धनराशि हस्तांतरित करेंगे. जिसका उपयोग आंगनवाड़ी भवन, उचित मूल्य की दुकानों, स्वास्थ्य केंद्रों, स्कूलों में अतिरिक्त कमरे, आंतरिक सड़कों सहित विभिन्न प्रकार की निर्माण गतिविधियों के लिए किया जाएगा. पीएम रतलाम और मेघनगर रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास की आधारशिला भी रखेंगे.

प्रधानमंत्री झाबुआ में 'सीएम राइज स्कूल' का शिलान्यास करेंगे. स्कूल छात्रों को स्मार्ट क्लास, ई-लाइब्रेरी जैसी आधुनिक सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रौद्योगिकी को एकीकृत करेगा. सरकार की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया जाएगा उनमें 'तलावड़ा परियोजना' शामिल है, जो धार और रतलाम के एक हजार से अधिक गांवों के लिए पेयजल आपूर्ति योजना है और अटल कायाकल्प और शहरी परिवर्तन मिशन (अमृत) 2.0 के तहत 14 शहरी जल आपूर्ति योजनाएं, जिससे मध्य प्रदेश के कई जिलों में 50,000 से अधिक शहरी परिवार लाभान्वित हो रहे हैं.

प्रधानमंत्री झाबुआ की 50 ग्राम पंचायतों के लिए 'नल जल योजना' राष्ट्र को समर्पित करेंगे, जिससे लगभग 11,000 घरों को नल का पानी उपलब्ध कराया जाएगा. कार्यक्रम के दौरान वह कई रेल परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास भी करेंगे. इनमें रतलाम रेलवे स्टेशन और मेघनगर रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास की आधारशिला भी शामिल है. इन स्टेशनों का पुनर्विकास अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत किया जाएगा. जो रेल परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित की जाएंगी, उनमें इंदौर-देवास-उज्जैन सी केबिन रेलवे लाइन के दोहरीकरण की परियोजना भी शामिल हैं. इसके अलावा पीएम मोदी मध्य प्रदेश में 3,275 करोड़ रुपये से अधिक की कई सड़क विकास परियोजनाओं को भी राष्ट्र को समर्पित करेंगे, जिसमें हरदा-बैतूल (पैकेज-I) को फोर लेन किया जाना शामिल है.

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

RO NO. 12737/143

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button