राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

निक्की हेली ने ट्रंप को पहली बार हराया, बोलीं- मैं भारत की बेटी

 वॉशिंगटन
अमेरिका में इस साल नवंबर में राष्ट्रपति चुनाव होने जा रहे हैं. इससे पहले देश की दोनों प्रमुख पार्टियों रिपब्लिकन और डेमोक्रेटिक के बीच राष्ट्रपति पद के लिए आधिकारिक उम्मीदवार चुनने की प्रक्रिया सुर्खियों में बनी हुई है. ऐसे में खबर है कि भारतवंशी निक्की हेली (Nikki Haley) ने डिस्ट्रिक्ट ऑफ कोलंबिया में हुए रिपब्लिकन प्राइमरी में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को मात दे दी है.

रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी में अब सिर्फ निक्की और डोनाल्ड ट्रंप ही बचे हैं. ऐसे में ट्रंप को हराने को निक्की की बड़ी जीत के तौर पर देखा जा रहा है. इस दौरान निक्की को 62.9 फीसदी जबकि ट्रंप को 33.2 फीसदी वोट ही मिले. निक्की ने अमेरिकी इतिहास में रिपब्लिकन प्राइमरी जीतने वाली पहली महिला बनकर रिकॉर्ड बना दिया है.

इससे पहले ट्रंप सभी आठ प्राइमरी चुनाव जीत गए थे. ओपिनियन पोल के मुताबिक, वह आगे होने वाली लगभग सभी प्राइमरी चुनाव जीत सकते हैं.

वॉशिंगटन डीसी सीट का चुनावी गणित

अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन डीसी 100 फीसदी शहरी इलाका है. जबकि ट्रंप का दबदबा ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक है, जहां अपेक्षाकृत कम पढ़ी-लिखी आबादी रहती है. ट्रंप कई दफा वॉशिंगटन को लेकर नकारात्मक बयान दे चुके हैं.

वॉशिंगटन प्राइमरी में ट्रंप पर निक्की की जीत से उन्हें कुछ राहत मिली हैं. वह ट्रंप के हाथों लगातार कई प्राइमरी हार चुकी हैं, ऐसे में ये जीत उनके लिए राहत भरी सांस लेकर आई है. हालांकि, कई रिपब्लिकन वॉशिंगटन में निक्की की लोकप्रियता को नकारात्मक तरीके से देख रहे हैं. ट्रंप सहित कई नेता वॉशिंगटन को क्राइम रेट में अव्वल शहर के तौर पर देखते हैं.

हालांकि, ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि रिपब्लिकन ने ट्रंप को खारिज किया है. इससे पहले 2016 के वॉशिंगटन प्राइमरी में भी उन्हें हार का सामना करना पड़ा था.

क्या है सुपर ट्यूजडे?

रिपब्लिकन राष्ट्रपति पद के नामांकन के लिए कम से कम 1,215 प्रतिनिधियों का समर्थन हासिल करने की जरूरत होती है. इससे पहले मंगलवार को देश के 15 राज्य और एक यूएस टेरीटरी मतदान करेंगे. इसे ही सुपर ट्यूजडे कहते हैं. बता दें कि वॉशिंगटन में डेमोक्रेटिक प्राइमरी जून में होगी.

जून तक चलने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए प्राइमरी चुनाव जून तक होंगे. इसके बाद जुलाई में रिपब्लिकन नेशनल कन्वेंशन होगा, जहां पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार को आधिकारिक तौर पर प्रतिनिधियों द्वारा चुना जाता है, इसके बाद अगस्त में डेमोक्रेटिक नेशनल कन्वेंशन होता है. 2024 का राष्ट्रपति पद का चुनाव पांच नवंबर को होगा.

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button