राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

पाक विदेश कार्यालय ने भारत के साथ व्यापार फिर से शुरू करने के विदेश मंत्री के प्रस्ताव का किया समर्थन

पाक विदेश कार्यालय ने भारत के साथ व्यापार फिर से शुरू करने के विदेश मंत्री के प्रस्ताव का किया समर्थन

Pakistan Foreign Office ने भारत के साथ व्यापार फिर से शुरू करने के प्रस्ताव पर बात की

मानसिक संकट से जूझ रहे बांग्लादेशी किशोर की न्यूयॉर्क पुलिस ने गोली मारकर की हत्या

इस्लामाबाद
 भारत के साथ व्यापार फिर से शुरू करने को लेकर पाकिस्तान से लगातार आवाजें उठ रही हैं। एक हफ्ते के अंदर पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री इशाक डार और अब पाकिस्तान विदेश कार्यालय ने भारत के साथ व्यापार फिर से शुरू करने के प्रस्ताव पर बात की है।

डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान विदेश कार्यालय की प्रवक्ता मुमताज ज़हरा बलूच ने कहा कि विदेश कार्यालय भारत के साथ व्यापार फिर से शुरू करने के प्रस्ताव की समीक्षा कर रहा है। भारत के साथ व्यापार पर प्रतिबंधों की समीक्षा में रुचि व्यक्त करने वाले व्यापारिक समुदाय के बारे में डार के एक बयान को याद करते हुए, प्रवक्ता ने कहा, "ऐसे प्रस्तावों की जांच विदेश मंत्रालय सहित पाकिस्तान सरकार द्वारा समय-समय पर की जाती रहती है।"

प्रवक्ता ने कहा कि अभी तक इस मुद्दे पर पाकिस्तान के रुख में कोई बदलाव नहीं आया है। 24 मार्च को, डार ने कहा था कि भारत के साथ व्यापार पर विचार किया जाएगा। उन्होंने इस संबंध में व्यापारिक समुदाय की मांग का भी जिक्र किया था। पिछले साल दिसंबर में, पाकिस्तान के पूर्व पीएम और पीएमएल-एन सुप्रीमो नवाज शरीफ ने पड़ोसियों के साथ पाकिस्तान के संबंधों को बेहतर बनाने की जरूरत पर जोर देते हुए कहा था, "हमें भारत और अफगानिस्तान के साथ भी अपने संबंधों को बेहतर करना होगा।"

 

मानसिक संकट से जूझ रहे बांग्लादेशी किशोर की न्यूयॉर्क पुलिस ने गोली मारकर की हत्या

न्यूयॉर्क,
 पुलिस ने "मानसिक संकट" से जूझ रहे एक बांग्लादेशी किशोर की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार किशोर ने उन पर कैंची से हमला किया था और उसके पास अपनी रक्षा के लिए उसे गोली मारने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं था।

न्यूयॉर्क पुलिस गश्ती प्रमुख जॉन चेल ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि बुधवार दोपहर 19 वर्षीय विन रोज़ारियो ने आपातकालीन पुलिस लाइन को एक कॉल किया। चेल ने बताया कि पुलिस जब रोजारियो के घर पहुंची, तो उसने उन पर कैंची से हमला कर दिया। इस पर पुलिस ने उसे वश में करने के लिए टेसर का इस्तेमाल किया। लेकिन उसकी मां के हस्तक्षेप के कारण टेसर काम नहीं कर सका।

गौरतलब है कि टेसर एक विद्युत उपकरण है, जो किसी व्यक्ति को वश में करने के लिए बिजली के झटके देता है। चेल ने कहा, रोज़ारियो ने कैंची उठाई और पुलिस के पीछे आ गया, ऐसे में पुलिस के पास अपना बचाव करने के लिए उसे गोली मारने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं था। लेकिन, रोज़ारियो के भाई, 17 वर्षीय उश्तो ने पुलिस की बात का खंडन करते हुए कहा कि उसकी मां उसे पूरे समय पकड़ कर रखती थी।

न्यूयॉर्क टाइम्स ने उश्तो के हवाले से कहा, "एक पुलिसकर्मी ने बंदूक निकाली और उसे गोली मार दी, जबकि मेरी मां अभी भी उसे गले लगाए हुए थी।" चेल ने कहा कि पुलिस ने बॉडीकैम पहना था, उसमें घटना रिकॉर्ड है। यह वीडियो घटना की सच्चाई बताएगा।

इसके पहले सोमवार को एक पुलिस अधिकारी, जो संभवतः भारतीय मूल का है, ने उस बंदूकधारी को गोली मार दी, जिसने अवैध रूप से पार्क की गई कार की जांच करते समय उसके सहयोगी की हत्या कर दी थी। वेकाश खेदना नामक अधिकारी, पुलिस डेटाबेस में एक एशियाई के रूप में सूचीबद्ध है और वह न्यूयॉर्क स्थित राष्ट्रमंडल क्रिकेट लीग में पुलिस क्रिकेट टीम में शामिल हैं।

भारतीय मूल का एक अन्य पुलिस अधिकारी पिछले महीने तब चर्चा में आया था, जब टाइम्स स्क्वाॅयर में अवैध अप्रवासियों के एक गिरोह ने उस पर हमला किया था।

 

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button