राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश: बुलंदशहर में गंगा नदी पर निर्माणाधीन पुल के तीन स्‍लैब गिरे, जांच समिति गठित

बुलंदशहर.
बुलंदशहर जिले के नरसेना क्षेत्र के गजरौला गांव में गंगा नदी पर एक निर्माणाधीन पुल के तीन स्लैब गिर गए। इसमें किसी भी प्रकार की जनहानि की सूचना नहीं है। एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि जिलाधिकारी ने मामले में जांच के लिए मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में एक समिति बना दी है।

इस बीच, समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रमुख अखिलेश यादव ने मामले को लेकर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर चुनावी चंदा लेने का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा लोगों के जीवन से खेल रही है। जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह ने शनिवार को बताया, ‘‘गजरौला गांव में गंगा नदी पर अमरोहा को जोड़ने वाला पुल बन रहा है, जिसमें कल रात तीन स्लैब डाले गए थे जो क्षतिग्रस्‍त होकर गिर गए। कोई जनहानि नहीं हुई है।''

उन्होंने बताया कि शुक्रवार रात लगभग 11 बजे काम खत्म हुआ था। उसके बाद मौसम खराब हुआ और स्लैब क्षतिग्रस्त होकर गिर गए, वहां कोई व्यक्ति नहीं था। जिलाधिकारी ने कहा, ‘‘मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) की अध्यक्षता में समिति बना दी है जो जांच करेगी और अगर कोई दोषी होगा तो उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी।''

उन्होंने ने बताया कि पुल ईपीसी (इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट और कंस्‍ट्रक्‍शन) पद्धति पर बन रहा है और इसकी गुणवत्ता की समय-समय पर जांच भी कराई जाती रही है। कल ही तीनों स्लैब डाले गए थे और रात में मौसम भी खराब हुआ है। इन सभी बिन्दुओं को ध्यान में रखते हुए जांच समिति जो विवरण देगी उसके अनुसार कार्रवाई करेंगे।

उन्होंने बताया कि पुल के खंबों को कोई क्षति नहीं हुई है। सपा प्रमुख एवं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को सोशल मीडिया मंच 'एक्‍स' पर अपने एक पोस्ट में कहा, ‘‘जनता पूछ रही है भाजपा ने ठेके के बदले में जो 'चुनावी चंदा' लिया है उसमें उस ठेकेदार ने कितना दिया जिसके द्वारा बुलंदशहर में गंगा जी पर बनाया जा रहा पुल। यह निर्माण दौरान ही टूट कर गिर गया?'' यादव ने आरोप लगाया, ‘‘काम की गुणवत्ता से खिलवाड़ करके, भाजपा लोगों के जीवन से खेल रही है।''

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button