मनोरंजन

अगले साल 2 मार्च 2025 को होने वाले ऑस्कर में किये कई बदलाव

न्यूयोर्क

हॉलीवुड का सबसे प्रतिष्ठित फिल्म पुरस्कार है। अगले साल 2 मार्च को आयोजित होने वाले एकेडमी अवॉर्ड में इस बार कुछ बदलाव भी देखने को मिलेंगे। ये बदलाव इंटरनेशनल फीचर फिल्मों की कैटेगरी, बेस्ट ऑरिजनल स्कोर कैटेगरी में हुए हैं। इसके अलावा अब फिल्मों को कम से कम एक हफ्ते तक स्क्रीन पर प्रदर्शित होना होगा, तब जाकर वो सिनेमाघरों के मानकों पर खरी उतर पाएंगी। इसके साथ ही एकेडमी ऑफ मोशन पिक्चर आर्ट्स एंड साइंसेज (AMPAS) के 97वें संस्करण में दो पुरस्कारों के नाम भी बदले गए हैं। जानिए पूरी डिटेल।
 
हॉलीवुड रिपोर्टर के अनुसार, ट्रेडिशनल मूवी थिएटर्स को बढ़ावा देने के लिए Oscars ने फिल्मों के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया (गुणवत्ता) को रिवाइज्ड (संशोधित) किया है। अब से फिल्मों को लॉस एंजिल्स काउंटी सहित चुने हुए मेट्रोपोलिटन एरिया (घनी आबादी वाले शहर) जैसे न्यूयॉर्क, बे एरिया, शिकागो, अटलांटा में कम से कम एक हफ्ते तक रन (प्रदर्शित) होना पड़ेगा। इसके अलावा फिल्मों को कई अमेरिकी बाजारों और इंटरनेशनल एरिया में थिएटर स्टैंडर्स को पूरा करना होगा।

एनिमेटेड और इंटरनेशनल फीचर कैटेगरी हुई एक
एक और दिलचस्प डेवलपमेंट है, वो ये कि एनिमेटेड फीचर और इंटरनेशनल फीचर कैटेगरी को अब एक माना जाएगा। विदेशी देशों की तरफ से सबमिट किए जाने वाले एनिमेटेड फीचर फिल्मों पर अब दोनों कैटेगरी के लिए विचार किया जा सकता है। बस शर्त ये है कि वो इसके लिए योग्य हों।

म्यूजिक कंपोजर्स को होने वाला है फायदा
एक ऐसा बदलाव भी हुआ है, जिससे म्यूजिक कंपोजर्स को फायदा होना तय है। दरअसल, अब बेस्ट ऑरिजनल स्कोर कैटेगरी में 15 की बजाय 20 टाइटल शॉर्टलिस्ट होंगे। साथ ही किसी फिल्म के संगीत में योगदान देने वाले 3 संगीतकारों को व्यक्तिगत रूप से ट्रॉफी दी जाएगी, जोकि पहले कितने भी संगीतकार क्यों ना हो, एक को ही मिलती थी

अब देनी होगी आखिरी शूटिंग स्क्रिप्ट
ऑस्कर पाने की चाह रखने वाले राइटर्स (लेखकों) को अब एक अंतिम शूटिंग स्क्रिप्ट देनी होगी। ये एक ऐसा कदम है, जो व्यापक सुधार के साथ फिल्मों को प्रभावित कर सकता है। गवर्नर्स अवॉर्ड सेरेमनी के दौरान दिए जाने वाले स्पेशल अवॉर्ड्स में भी संशोधन किया जा रहा है।

इन्हें भी मिलेगी ऑस्कर की ट्रॉफी
द इरविंग जी थेलबर्ग मेमोरियल अवॉर्ड अब एक मूर्ति के रूप में नहीं, बल्कि एक ऑस्कर प्रतिमा के रूप में होगा। जबकि जीन हर्शोल्ट ह्यूमैनिटेरियन अवार्ड को मानव कल्याण को बढ़ावा देने और असमानताओं को दूर करने की कोशिश का सम्मान करने के लिए फिर से परिभाषित किया जाएगा।

2 मार्च 2025 को होंगे ऑस्कर
इसके अलावा टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में योगदान देने वाले साइंटिफिक और टेक्निकल अवॉर्ड्स को फिर से नया नाम दिया जाएगा। गॉर्डन ई सॉयर पुरस्कार को अब साइंटिफिक और टेक्निकल लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड व जॉन ए बोनर पुरस्कार को अब 'साइंटिफिक और टेकनिकल सर्विस अवॉर्ड' रखा गया है। बता दें कि 17 जनवरी 2025 को नॉमिनेशन अनाउंस किए जाएंगे और 2 मार्च 2025 को ऑस्कर जीतने वालों को ट्रॉफी दी जाएगी।

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button