व्यापार जगत

ल्यूपिन ने जेफरी किंडलर और अल्फोंसो ‘चिटो’ ज़ुलुएटा को स्वतंत्र निदेशक किया नियुक्त

ल्यूपिन ने जेफरी किंडलर और अल्फोंसो ‘चिटो’ ज़ुलुएटा को स्वतंत्र निदेशक किया नियुक्त

गो डिजिट जनरल इंश्योरेंस लिमिटेड का आईपीओ 15 से 17 मई तक खुलेगा

फिच ने एक्सिस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक की रेटिंग ‘बीबी+’ पर रखी बरकरार

नई दिल्ली
दवा कंपनी ल्यूपिन लिमिटेड ने फाइजर के पूर्व चेयरमैन एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी जेफरी किंडलर और अल्फोंसो ‘चिटो’ जुलुएटा को अपने निदेशक मंडल में स्वतंत्र निदेशक नियुक्त किया है।

ल्यूपिन ने शेयर बाजार को दी सूचना में बताया कि किंडलर वर्तमान में निजी स्वामित्व वाली जैव प्रौद्योगिकी कंपनी सेंट्रेक्सियन थेरेप्यूटिक्स के सीईओ, ब्लैकस्टोन के वरिष्ठ सलाहकार, एआरटीआईएस वेंचर्स में परिचालन साझेदार और जीएलजी इंस्टीट्यूट के वैश्विक प्रमुख हैं।

कंपनी के अनुसार, उनके पास दुनिया की कुछ सबसे प्रतिष्ठित कंपनियों में नेतृत्व के पदों पर सेवाएं देने का चार दशकों से अधिक का व्यावसायिक अनुभव है। इनमें फाइजर भी शामिल है, जहां उन्होंने चेयरमैन एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में काम किया। साथ ही मैकडॉनल्ड्स कॉर्पोरेशन और जनरल इलेक्ट्रिक कंपनी में भी उन्होंने सेवाएं दी।

ल्यूपिन के अनुसार, जुलुएटा वर्तमान में इंटरफार्मा इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड के निदेशक मंडल के गैर-कार्यकारी चेयरमैन के रूप में कार्यरत हैं। इंटरफार्मा इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड एशिया के सबसे बड़े स्वास्थ्य सेवा समूहों में से एक ज़ुएलिग फार्मा की नियंत्रक कंपनी है।

ल्यूपिन की मुख्य कार्यपालक अधिकारी विनीता गुप्ता ने कहा, ‘‘स्वास्थ्य सेवा संस्थानों के निर्माण में उनका (किंडलर और जुलुएटा का) व्यापक अनुभव, हमारे उद्योग का रणनीतिक दृष्टिकोण तथा उभरते वैश्विक औषधि परिदृश्य की गहरी समझ, हमें आने वाले वर्षों में अपनी वद्धि योजनाओं को आगे बढ़ाने में सक्षम बनाएगी।’’

गो डिजिट जनरल इंश्योरेंस लिमिटेड का आईपीओ 15 से 17 मई तक खुलेगा

नई दिल्ली
 कनाडा स्थित फेयरफैक्स समूह द्वारा समर्थित कंपनी गो डिजिट जनरल इंश्योरेंस लिमिटेड 15 मई को अपना आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) लाने की तैयारी में है।

आईपीओ दस्तावेज के अनुसार, निर्गम 15 से 17 मई तक खुलेगा। एंकर (बड़े) निवेशक 14 मई को बोली लगा पाएंगे।

गो डिजिट के प्रस्तावित आईपीओ में 1,125 करोड़ रुपये मूल्य के ताजा शेयर हैं। इसके अलावा प्रवर्तक गो डिजिट इन्फोवर्क्स सर्विसेज और मौजूदा शेयरधारकों द्वारा 5.47 करोड़ इक्विटी शेयर की बिक्री पेशकश (ओएफएस) भी शामिल है।

गो डिजिट इन्फोवर्क्स सर्विसेज के पास वर्तमान में कंपनी की 83.3 प्रतिशत हिस्सेदारी है।

क्रिकेटर विराट कोहली और उनकी पत्नी एवं अभिनेत्री अनुष्का शर्मा भी इस कंपनी के निवेशकों में शामिल हैं। वे आईपीओ में कोई शेयर नहीं बेच रहे हैं।

कंपनी को भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड से आईपीओ लाने की मंजूरी मार्च में मिल गई थी।

फिच ने एक्सिस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक की रेटिंग ‘बीबी+’ पर रखी बरकरार

नई दिल्ली
फिच रेटिंग्स ने एक्सिस बैंक और आईसीआईसी बैंक की रेटिंग ‘बीबी+’ पर बरकरार रखी है।

एजेंसी ने रेटिंग की घोषणा करते हुए इन बैंक में सहायक परिचालन परिवेश और इनके व्यापक घरेलू फ्रेंचाइजी होने का हवाला दिया।

वैश्विक एजेंसी ने दो अलग-अलग बयान में भारत स्थित एक्सिस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक की दीर्घकालिक जारीकर्ता डिफ़ॉल्ट रेटिंग (आईडीआर) को ‘बीबी+’ पर बरकरार रखा है। बैंकों की सरकारी सहायता रेटिंग (जीएसआर) को ‘बीबी+’ तथा व्यवहार्यता रेटिंग (वीआर) को ‘बीबी’ पर बरकरार रखा गया है।

रेटिंग एजेंसी ने कहा कि भारत की मध्यम अवधि में मजबूत वृद्धि क्षमता के कारण उसे परिचालन परिवेश के सहायक होने की उम्मीद है। निवेश संभावनाओं के दम पर 2024 में जीडीपी वृद्धि सात प्रतिशत और 2025 में 6.5 प्रतिशत रहने का अनुमान है।

एक्सिस बैंक के संबंध में फिच ने कहा कि बैंक की वृद्धि की इच्छा क्षेत्र के औसत से ऊपर रहने की संभावना है। यहां तक की यह अन्य बड़े निजी बैंकों के समान है।

आईसीआईसीआई बैंक के बारे में फिच ने कहा कि वह इसकी आय तथा लाभप्रदता स्कोर पर सकारात्मक दृष्टिकोण बनाए रखता है, क्योंकि उसे उम्मीद है कि लाभप्रदता पिछले वर्षों की तुलना में उच्च स्तर पर बनी रहेगी।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button