राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

बिहार कांग्रेस में बड़ी टूट, MLA विजय शंकर दुबे के पुत्र व असितनाथ तिवारी समेत कई ने थामा कमल

पटना
बिहार समेत पूरे देश में लोकसभा चुनाव के चार चरण पूरे हो चुके हैं। पांचवें चरण की तैयारी में सभी पार्टियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है। इस बीच पाला बदलने का सिलसिला भी जारी है। बिहार कांग्रेस में बड़ी टूट हुई है। पार्टी के पूर्व प्रवक्ता असितनाथ तिवारी समेत विधायक विजय शंकर दुबे के बेटे सत्यम दुबे ने कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा की सदस्यता हासिल कर ली है। उनके साथ कई अन्य नेता भी भाजपा में शामिल हुए।  इससे पहले प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश सिंह के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अनिल शर्मा भी कांग्रेस को छोड़ भाजपा का दामन थाम चुके हैं। चुनावी समर के बीच इस सियासी पाला बदल से कांग्रेस को बड़ा नुकसान हो सकता है।

बीजेपी की ओर से आयोजित मिलन समारोह में पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी और मंत्री मंगल पाडे समेत कई नेता मौजूद थे। सम्राट चौधरी ने सबको पार्टी की सदस्यता दिलाई। इस मौके पर मंगल पांडेय भी मौजूद रहे।  बताया जा रहा है कि कांग्रेस के कई पदाधिकारियों ने भी पार्टी छोड़ी है जिनमें पूर्व जिला अध्यक्ष भी शामिल हैं।  इस पाला बदल को लोकसभा चुनाव के बीच बिहार में कांग्रेस के लिए एक बड़ा झटका के रूप में देखा जा रहा है। बीजेपी में शामिल होने बाद मीडिया से बात करते हुए सत्यम दुबे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कार्यशैली को देखते हुए प्रभावित हो गया और भाजपा में आ गया। उन्होंने कहा कि बीजेपी के कामकाज का तरीका बहुत अलग है और उससे मैं प्रभावित हुआ हूं। कहा कि  देश को आगे बढ़ाने के लिए एक सशक्त सरकार की जरूरत है। जब उनसे पूछ गया कि आपके पिता कांग्रेस से विधायक हैं तो सत्यम दूबे ने कहा कि  मैं भारत का स्वतंत्र नागरिक हूं।  मेरे पास अपनी विचारधारा है जिसे में मानता हूं। पापा अपनी जगह हैं।
 
सत्यम दुबे  महाराजगंज से आते हैं।  महाराजगंज लोकसभा सीट पर छठे चरण में 25 मई को वोटिंग होनी है।  चुनाव से पहले ही कांग्रेस को एक बड़ा झटका लगा है। ऐसी खबर है कि कांग्रेस विधायक विजय शंकर दुबे महराजगंज से टिकट चाह रहे थे।  हालांकि टिकट बिहार कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह के बेटे आकाश सिंह को मिला। इस पाला बदल के लिए उसी राजनैतिक घटना को वजह के रूप में देखा जा रहा है।  पूर्व प्रवक्ता असितनाथ तिवारी का बीजेपी में आना भी कांग्रेस के लिए बड़ा लॉस है। वह अपनी पार्टी को बीजेपी समेत सभी विरोधियों से डिफेंड करते थे।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button