RO.NO.12784/141
राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

‘खालिस्तानी स्टाइल’ में पीछे से आई और मुझे थप्पड़ मार दिया : कंगना रनौत

नई दिल्ली

नई दिल्ली: कंगना रनौत पहली बार लोकसभा चुनाव जीतकर संसद पहुंची हैं। हिमाचल प्रदेश के मंडी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र पर उन्होंने कांग्रेस कैंडिडेट 74,755 वोटों से हराया। कंगना ने कुल 5,37,022 वोट पाए। अब नई सरकार बनने की बारी है। इसके लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) यानी एनडीए संसदीय दल की बैठक बुलाई गई। पुराने संसद भवन के केंद्रीय कक्ष में आयोजित इस बैठक में भाग लेने कंगना भी पहुंचीं। इस दौरान वो च्युइंगगम चबाती हुईं मस्तमौले अंदाज में दिखीं।

लोकसभा चुनाव में बीजेपी के नेतृत्व वाले, एनडीए गठबंधन की जीत के बाद, अब नई सरकार बनाने की तैयारियां जोरों पर हैं. दिल्ली में संसदीय दल की मीट‍िंंग में आज सभी सांसद पहुंचे हैं.  कंगना इसी मीटिंग में हिस्सा लेने पहुंची हैं और वहां उनकी मुलाकात चिराग पासवान से हुई.

पुराने कोस्टार चिराग पासवान से मिलीं कंगना
पीटीआई के हवाले से सामने आए वीडियो में, एनडीए के संसदीय दल की बैठक के लिए पहुंचे चिराग पासवान मीडिया के सामने पोज देते नजर आ रहे हैं लेकिन तभी कंगना वहां से गुजरती हैं. चिराग, कंगना को आवाज देकर रोकते और उन्हें चुनाव में जीत के लिए बधाई देते नजर आ रहे हैं.

बिहार के हाजीपुर से चुनाव जीतकर सांसद बने चिराग पासवान, लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के प्रेजिडेंट हैं. केंद्रीय मंत्री रह चुके स्वर्गीय राम विलास पासवान के बेटे, चिराग की पार्टी एनडीए का हिस्सा है. वो भी संसदीय दल की मीटिंग में हिस्सा लेने पहुंचे हैं.

कंगना जब संसद भवन पहुंचीं तो परिसर में उनकी मुलाकात एनडीए में शामिल दलों के नेताओं से हुई। इस दौरान उनका एलजेपी (रामविलास) और बिहार के हाजीपुर से चुनकर लोकसभा पहुंचे चिराग पासवान से भी आमना-सामना हो गया। कंगना ने चिराग से हाथ मिलाया। ध्यान रहे कि कंगना बॉलिवुड अभिनेत्री हैं तो चिराग पासवान भी बॉलिवुड का हिस्सा रह चुके हैं। कंगना जब चिराग से हाथ मिलाकर आगे बढ़ीं तो तेलंगाना की करीमनगर सीट से सांसद बीजेपी नेता संजय बांदी कुमार ने उन्हें बुके देकर स्वागत किया। वहां से कंगना संसद भवन के अंदर चली गईं।

कंगना रनौत कल अचानक सुर्खियों में आ गईं जब उन्हें चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर तैनात एक महिला सुरक्षाकर्मी ने उन्हें चांटा जड़ दिया था। सीआईएसएफ जवान कुलविंदर कौर की शिकायत थी कि कंगना ने किसान आंदोलन के वक्त आपत्तिजनक बयान दिया था। कुलविंदर ने कहा कि उसकी मां भी किसान आंदोलन में शामिल थीं जिन्होंने धरने में भी हिस्सा लिया था। चूंकि कंगना ने कहा था कि महिलाओं ने 100-150 रुपये लेकर धरने पर बैठी थीं, इसलिए कुलविंदर को अपनी मां के लिए यह अपमाजनक लगा। बहरहाल, कुलविंद के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाकर उसे नौकरी से सस्पेंड कर दिया गया है।

 

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button