RO.NO.12784/141
राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि वार्षिक भारत-श्रीलंका संयुक्त सैन्य अभ्यास “मित्र शक्ति 2023” का नौवां संस्करण शुरू

नई दिल्ली
रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि वार्षिक भारत-श्रीलंका संयुक्त सैन्य अभ्यास "मित्र शक्ति 2023" का नौवां संस्करण गुरुवार को औंध (पुणे) में शुरू हुआ। दोनों पक्ष छापे मारने, खोज करने और लक्ष्‍य को नष्‍ट करने जैसे मिशनों तथा हेलिकॉप्‍टर से अंजाम दिये जाने वाले ऑपरेशन आदि का अभ्यास करेंगे।

अधिकारी ने बताया कि इसके अलावा, आर्मी मार्शल आर्ट्स रुटीन (एएमएआर), कॉम्बैट रिफ्लेक्स शूटिंग और योग भी अभ्यास का हिस्सा होंगे। रक्षा मंत्रालय ने कहा कि 'अभ्यास मित्र शक्ति – 2023' में ड्रोन के इस्‍तेमाल और हेलीकॉप्टरों के अलावा ड्रोन रोधी प्रणालियों का भी अभ्‍यास किया जायेगा। आतंकवाद विरोधी अभियानों के दौरान हेलीपैडों को सुरक्षित करने और हताहतों को निकालने का भी दोनों पक्षों द्वारा संयुक्त रूप से अभ्यास किया जाएगा।

सामूहिक प्रयास शांति अभियानों के दौरान संयुक्त राष्ट्र के हितों और एजेंडे को सबसे आगे रखते हुए सैनिकों के बीच अंतरसंचालनीयता के उन्नत स्तर को प्राप्त करने और जीवन तथा संपत्ति के जोखिम को कम करने पर ध्यान केंद्रित करेंगे। रक्षा मंत्रालय के अनुसार, यह अभ्यास 16 से 29 नवंबर 2023 तक आयोजित किया जा रहा है। भारत की ओर से 120 सैन्‍य कर्मियों की भारतीय टुकड़ी का प्रतिनिधित्व मुख्य रूप से मराठा लाइट इन्फैंट्री रेजिमेंट के सैनिकों द्वारा किया जा रहा है।

श्रीलंकाई पक्ष का प्रतिनिधित्व 53 इन्फैंट्री डिवीजन के कर्मियों द्वारा किया जा रहा है। रक्षा मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि भारतीय वायु सेना के 15 कर्मी और श्रीलंकाई वायु सेना के पांच कर्मी भी अभ्यास में भाग ले रहे हैं। अधिकारी ने कहा कि इस अभ्यास से दोनों पड़ोसी देशों के बीच मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को भी बढ़ावा मिलेगा।

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button