RO.NO.12784/141
खेल जगत

World Cup में ऑस्ट्रेलिया को कैसे हराएं? सद्गुरु ने टीम इंडिया को जीत का मंत्र दे दिया है!

अहमदाबाद

अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में 19 नवंबर 2023 को भारत और ऑस्ट्रेलिया के महामुकाबले के बाद घोषणा हो जाएगी कि क्रिकेट का बादशाह कौन है. हिंदुस्तान जैसे देश में क्रिकेट किसी उत्सव से कम नहीं है, इसलिए हर कोई अपने अंदाज में मैन इन ब्लू का सपोर्ट करता नजर आ रहा है. तमाम भारतीय क्रिकेट फैंस की नींद उड़ी हुई है. उनके सामने जो सबसे बड़ा सवाल है वो ये कि क्या फाइनल्स में भारत ऑस्ट्रेलिया को हरा पाएगा? इस सवाल पर यूं तो सबकी अपनी राय है. मगर बाजी सदगुरु ने मारी है. सद्गुरु ने बड़ी ही सहजता से इस सवाल का जवाब दिया है और कप को लेकर भारतीय क्रिकेट फैंस की चिंता का निवारण कर दिया है. 

दरअसल एक वीडियो इंटरनेट पर वायरल हुआ है. वायरल वीडियो में एक युवक सदगुरु से ये पूछता हुआ नजर आ रहा है कि, क्या वो भारतीय टीम को कोई सुझाव देना चाहेंगे जिससे वर्ल्ड कप वापस भारत की झोली में आ जाए? इस सवाल का जवाब देते हुए सदगुरु ने कहा है कि मुझे पता है उन्हें ( भारतीय क्रिकेट टीम को ) को क्रिकेट खेलना आता है. मैं क्यों कुछ कहूं.

कप कैसे जीतें? इसपर सदगुरु ने कहा है कि कप जीतने की कोशिश मत करो, बस खेलो. वहीं उन्होंने ये भी कहा कि अगर आप 1 अरब लोगों के लिए कप लाने के बारे में सोचते हैं, तो आप बॉल को हिट करने से चूक जाएंगे. या अगर आप अन्य काल्पनिक चीजों के बारे में सोचेंगे जो विश्वकप जीतने के बाद होती हैं तो गेंद आपके विकेटों को उड़ा देगी. 

जवाब पूरा करते हुए सद्गुरु ने कहा कि विश्व कप को कैसे जीता जाए इसके बारे में मत सोचो. बॉल को कैसे हिट किया जाए? विपक्षी टीम के विकेट कैसे गिराए जाएं. बस यही सोचना है. विश्व कप के बारे में मत सोचो नहीं तो आप विश्व कप से बाहर हो जाएंगे.

गौरतलब है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच के पहले भी सद्गुरु ने टीम इंडिया को शुभकामनाएं दी थीं. माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट X (पूर्व में ट्विटर) पर एक वीडियो शेयर किया था. उस वीडियो में भी सद्गुरु ने इस बात का जिक्र किया था कि कोई भी किसी अंजाम को लेकर काम नहीं कर सकता. आप केवल एक प्रक्रिया पर काम कर सकते हैं. 

अब प्रक्रिया एक दैनिक चलने वाली चीज है. सफलता केवल दूसरे लोगों की नजर में होती है. वे सोचते हैं कि आप सफल हैं, वे सोचते हैं कि आप असफल हैं. लेकिन वास्तव में आप जो कर रहे हैं वो एक प्रक्रिया है. 

भारत या ऑस्ट्रेलिया इसका फैसला अहमदाबाद में 19 नवंबर को हो जाएगा. मगर जो बातें सद्गुरु ने कही हैं उनपर सिर्फ भारतीय क्रिकेट फैंस को नहीं, बल्कि टीम इंडिया को भी गौर करना चाहिए. यदि टीम ने सद्गुरु की बातों का पालन कर लिया तो जीत पक्की है. 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button