RO.NO.12784/141
राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

पेट काट कर बेटी को IAS बनाना चाहता था संजय, तस्कर ने तोड़ा सपना; परिवार की चीखों ने कर दी सभी की आंखें नम

मुंगेर
शादीपुर का संजय कुमार उर्फ संजय राम अब दुनिया में नहीं रहा। गोली से घायल संजय ने नहाय-खाय की रात पटना के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया। मौत की खबर सुनकर अस्पताल से लेकर घर तक परिवार वालों की चीख-पुकार की आवाज निकलती रही। घरवालों को ढांढस बंधाने के लिए पड़ोस के लोग पहुंचते रहे। पत्नी रंजन देवी बराबर बेहोश हो रही थी। कोई पत्नी को संभाल रहा था तो कोई उसकी मां पुतुल देवी काे। मोहल्ले के लोग भी संजय की मौत से स्तबध हैं। बेटी तनुश्री के सिर से पिता का साया उठ गया। वह दहाड़ मार कर रो रही थी। हर कोई तनु को चूप कराने और ढांढस बंधाने में दिखे।

बेटी तनुश्री को पेट काट कर डीजे और इलेक्ट्रिक का छोटा व्यापार करने वाला संजय राम दिल्ली के कालेज में पढ़ा रहा था। बेटी को आइएएस बनाने के लिए खुद परिश्रम कर कई सपने संयोज कर रखा था पर किस्मत को कुछ और ही मंजूर था। शराब तस्कर विक्की ने संजय के सपने को पूरा होने से पहले ही तोड़ दिया। परिवार वालों ने विक्की राम और उसके पिता महेंद्र राम पर केस दर्ज कराया है। संजय के कंधे पर बेटी की पढ़ाई से लेकर घर-परिवार का भार था।

बाप राशन की सप्लायर तो बेटा शराब का
परिवारवालों की मानें ताे हत्या का मुख्य आरोपित विक्की कुमार उर्फ विक्की राम शराब की तस्करी अरसे से कर रहा है। विक्की का पिता महेंद्र राम जविप्र बिक्रेता है। सरकारी राशन की दुकान चलाता है। कार्डधारियों के बीच राशन की सप्लाई (वितरण) करता था। दिवंगत दुकानदार के भाई रिंकू कुमार ने पुलिस को बताया 13 नवंबर रात लगभग 10 बजे भैया अपनी दुकान पर थे तभी विक्की राम बाइक से पहुंचकर भाई के ऊपर तीन से चार चक्र गोलियां चलाई। इसमेें एक गोली भैया के पीठ में लगी। गोली मारने के बाद विक्की ने हथियार पिता महेंद्र राम को थमाया और भाग गया। जख्मी हालत में संजय को इलाज के लिए सदर अस्पताल पहुंचाया। मोहल्ले वालों ने प्रशासन से डीलर का लाइसेंस रद करने की मांग की है। बाप-बेटा दोनों फरार है।
 

स्वजन ने शादीपुर मुख्य मार्ग पर शव रखकर जाम कर दिया और विक्की राम की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। सूचना मिलते ही एसडीपीओ राजेश कुमार, मुख्यालय डीएसपी आलोक रंजन, यातायात डीएसपी प्रभात कुमार के साथ कोतवाली थाना अध्यक्ष धीरेंद्र पांडे , कासिम बाजार थाना अध्यक्ष मिंटू सिंह , पूरब सराय ओपी अध्यक्ष राजीव कुमार, मुफस्सिल थाना अध्यक्ष अमरेंद्र कुमार, नया रामनगर थाना अध्यक्ष कौशल कुमार, वासुदेवपुर ओपी अध्यक्ष एलबी सिंह सहित बड़ी संख्या में पुलिस बल पहुंचकर मामला को शांत करने का प्रयास किया। इस दौरान पीड़ित और इलाके के लोगों की मांग पर विक्की राम के घर पहुंच कर पुलिस ने विक्की की पत्नी, मां और भाई राकी कुमार को हिरासत में लिया।

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button