राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

अंदरूनी कलह के कारण कार्यकर्ताओं में असमंजस की स्थिति, अब मेरठ से सपा ने अपना प्रत्याशी बदलने का फैसला लिया

लखनऊ
समाजवादी पार्टी में मुरादाबाद और रामपुर में टिकट को लेकर 48 घंटे तक चले सियासी संग्राम के बाद इन दोनों स्थानों पर पार्टी धड़ों में बंटी दिखाई दे रही है। पार्टी नेतृत्व ने बीच का रास्ता निकालते हुए टिकट बंटवारा तो कर दिया है लेकिन अंदरूनी कलह के कारण कार्यकर्ताओं में असमंजस की स्थिति बनी हुई है। अब मेरठ से सपा ने अपना प्रत्याशी बदलने का फैसला लिया है। भानु प्रताप सिंह का टिकट काट दिया गया है। भानु की जगह नए कैंडिडेट का ऐलान आज ही होने की संभावना है। हालांकि चर्चा है कि अखिलेश के करीबी सरधना विधायक अतुल प्रधान को प्रत्याशी बनाया जा सकता है। वहीं, गौतमबुद्ध नगर में भी प्रत्याशी बदल दिया गया है। राहुल अवाना की जगह पहले से घोषित महेंद्र नागर को प्रत्याशी बनाया गया है।

मेरठ में भानु प्रताप सिंह के टिकट की घोषणा के बाद से ही स्थानीय नेताओं के बीच ही सहमति नहीं बन पा रही है।  भानु प्रताप सिंह को टिकट देने पर समाजवादी पार्टी के कुछ नेताओं ने खुला विरोध किया। जिसके चलते पार्टी को अपने फैसले से पीछे हटना पड़ रहा है। स्थानीय सपा नेताओं और जनप्रतिनिधियों कहना है कि पार्टी किसी स्थानीय नेता को ही उम्मीदवार बनाए। इसी को लेकर सपा नेताओं को लखनऊ बुलाया गया।  नए प्रत्याशी को लेकर सपा में मंथन चल रहा है।

आज शाम तक नए प्रत्याशी के नाम का ऐलान हो सकता है। खबर है कि बैठक हुई है। बैठक में अखिलेश यादव , सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम के अलावा प्रत्याशी भानु प्रताप सिंह, सरधना विधायक अतुल प्रधान, हस्तिनापुर से पूर्व विधायक योगेश वर्मा, पूर्व कैबिनेट मंत्री और किठौर विधायक शाहिद मंजूर, राष्ट्रीय सचिव आकिल मुर्तजा, पूर्व सांसद हरीश पाल के बेटे नीरज पाल, जिलाध्यक्ष विपिन चौधरी थे।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button