राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

नवी मुंबई में खुद को पुलिसकर्मी बताने के आरोप में एक व्यक्ति गिरफ्तार

नवी मुंबई में खुद को पुलिसकर्मी बताने के आरोप में एक व्यक्ति गिरफ्तार

विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने के आरोप में तीन व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज

पुलिस ने ठाणे में 15 लाख रुपये के चोरी के मोबाइल फोन बरामद किए

ठाणे
 पुणे के एक निवासी को नवी मुंबई स्थित एक होटल में काम करने वाली उसकी महिला मित्र की बर्खास्तगी रद्द कर उसे नौकरी पर बहाल किए जाने के लिए खुद को पुलिसकर्मी के तौर पर पेश करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोलखे इलाके में आरोपी सलमान ताजमुद्दीन मुलानी का होटल प्रबंधक के साथ झगड़ा हुआ था, जिसके बाद पनवेल टाउन पुलिस ने 27 मार्च की रात को उसे गिरफ्तार किया था।

अधिकारी ने बताया कि खाकी वर्दी पहने हुए 31 वर्षीय मुलानी ने होटल प्रबंधक पर उसकी प्रेमिका को ‘अन्यायपूर्ण’ तरीके से बर्खास्त करने का आरोप लगाया और उसे तत्काल बहाल करने को कहा। लेकिन सतर्कता बरतते हुए होटल प्रबंधक ने पुलिस को इस बारे में सूचित किया, जिसके बाद उन्होंने मुलानी को गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने कहा कि आरोपी पुणे के चाकन का रहने वाला है और चिकन की दुकान चलाता है।

पनवेल टाउन पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक नितिन ठाकरे ने कहा कि वे यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या मुलानी ने पहले भी पुलिस अधिकारी का रूप धारण किया था और दूसरों को धोखा दिया था।

विदेश में नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने के आरोप में तीन व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज

ठाणे
 महाराष्ट्र के ठाणे शहर में पुलिस ने विदेशों में नौकरी दिलाने का झांसा देकर कई लोगों से धोखाधड़ी करने के आरोप में एक भर्ती एजेंसी से जुड़े तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि मुंबई के दहीसर इलाके के 38 वर्षीय एक व्यक्ति की शिकायत पर आरोपियों मुथु राजू नादर (निदेशक), श्रन्या मुरलीधरन (साझेदार) और अजमुद्दीन मुल्ला (शाखा प्रबंधक) के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है।

शिकायतकर्ता ने कहा कि उसने फेसबुक पर विज्ञापन देखने के बाद एजेंसी से संपर्क किया था और विदेश में नौकरी दिलाने के लिए आरोपियों को दो लाख रुपये दिए थे। उसने अपनी शिकायत में कहा कि एजेंसी उसे विदेश में नौकरी नहीं दिला पायी। उसने अपनी शिकायत में कहा कि आरोपियों ने एक चेक से उसका पैसा लौटाने की पेशकश की लेकिन खाते में अपर्याप्त धनराशि होने के कारण चेक बाउंस हो गया।

शिकायतकर्ता ने कहा कि जब उसने अपना पैसा मांगा तो उसे कथित तौर पर पुलिस में शिकायत दर्ज कराने की धमकी दी गयी।

पीड़ित इस साल जनवरी में शहर के वागले एस्टेट इलाके में स्थित एजेंसी के कार्यालय में पहुंचा और उसे मालूम चला कि कंपनी बंद हो गयी है।

श्रीनगर पुलिस थाने के प्रभारी अधिकारी ने बताया कि पीड़ित ने स्थानीय पुलिस में शिकायत दी और पुलिस ने कुछ दिन पहले तीनों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया है। पुलिस को संदेह है कि आरोपियों ने करीब 250 लोगों से ठगी की है।

पुलिस ने ठाणे में 15 लाख रुपये के चोरी के मोबाइल फोन बरामद किए

ठाणे
 महाराष्ट्र के ठाणे जिले में पुलिस ने दिल्ली से एक चोर को गिरफ्तार करने के बाद पिछले सप्ताह एक दुकान से चोरी किए करीब 15 लाख रुपये के मोबाइल फोन बरामद किए हैं।

उन्होंने बताया कि आरोपी फिरोज उर्फ मोनू नईम खान 20 और 21 मार्च की मध्यरात्रि को भायंदर में मोबाइल की एक दुकान का ताला तोड़कर उसमें घुसा और 16.71 लाख रुपये के 22 से अधिक महंगे फोन लेकर फरार हो गया।

मीरा-भायंदर, वसई-विरार पुलिस के सहायक पुलिस आयुक्त (अपराध शाखा) मदन बल्लाल ने बताया कि पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और तकनीकी खुफिया के आधार पर मुंबई में बांद्रा निवासी खान (29) का पता लगाया जो उत्तर प्रदेश के बिजनौर में पाया गया।

उन्होंने बताया कि जब पुलिस उत्तर प्रदेश पहुंची तो खान दिल्ली चला गया था।

बल्लाल ने बताया कि खान को बुधवार को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया और उसके पास से 14.56 लाख रुपये के 20 मोबाइल फोन बरामद किए गए हैं।

 

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button