स्वास्थ्य

नींद की कमी के खतरे: अधूरी नींद का प्रभाव

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में कई लोगों को नींद की कमी से जूझना पड़ता है. देर रात तक काम करना, मोबाइल फोन का इस्तेमाल या फिर पार्टी करना, ये सब नींद की कमी का कारण बन सकते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि रातों को देर तक जागने से आपकी किडनी को भी नुकसान हो सकता है?

अध्ययनों से पता चला है कि नींद की कमी से किडनी की कार्यक्षमता प्रभावित होती है. जब हम सोते हैं, तो किडनी खुद को रिपेयर करती है और शरीर की गंदगी को बाहर निकालती है. लेकिन जब हम कम नींद लेते हैं, तो किडनी को यह काम करने का पर्याप्त समय नहीं मिलता है. नीचे कुछ तरीके दिए गए हैं जिनसे अधूरी नींद किडनी को नुकसान पहुंचा सकती है:

ब्लड प्रेशर में वृद्धि

जब आप पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं, तो आपके शरीर में कोर्टिसोल नामक तनाव हार्मोन का लेवल बढ़ जाता है. इससे ब्लड प्रेशर में वृद्धि हो सकती है, जो किडनी को नुकसान पहुंचा सकती है.

सूजन में वृद्धि

नींद की कमी से शरीर में सूजन बढ़ सकती है, जो किडनी को नुकसान पहुंचाने वाले फैक्टरों में से एक है.

ब्लड शुगर में वृद्धि

नींद की कमी ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने की शरीर की क्षमता को कम कर सकती है, जिससे डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है. डायबिटीज किडनी बीमारी का एक प्रमुख कारण है.

खून फ्लो में कमी

नींद की कमी से किडनी में खून फ्लो कम हो सकता है, जिससे किडनी की कार्यक्षमता में गिरावट आ सकती है.

रात में अच्छी नींद के टिप्स

एक नियमित नींद का समय निर्धारित करें और उसका पालन करें.
सोने से पहले कैफीन और शराब से बचें.
सोने से पहले आरामदायक वातावरण बनाएं.
सोने से पहले इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग न करें.
 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button