राजनीति

टिकट मिलने के बाद कटिहार पहुंचे तारिक अनवर ने कहा, पलायन रोकने के लिए करूंगा काम

टिकट मिलने के बाद कटिहार पहुंचे तारिक अनवर ने कहा, पलायन रोकने के लिए करूंगा काम

हरीश रावत करेंगे यूपी में चुनाव प्रचार, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में शामिल

झारखंड में सीपीआई ने इंडिया गठबंधन से नाता तोड़ चार सीटों पर उतारे प्रत्याशी

कटिहार
 कटिहार सीट पर जारी ऊहापोह की स्थिति पर विराम लगाते हुए कांग्रेस ने तारिक अनवर को फिर से अपना प्रत्याशी बनाया है। बेशक, इस बार कांग्रेस ने इस सीट से प्रत्याशी उतारने में विलंब किया, लेकिन आखिरी में दांव तारिक अनवर पर ही लगाना मुनासिब समझा।

वहीं, प्रत्याशी बनाए जाने के बाद तारिक अनवर कटिहार पहुंचे जहां रेलवे स्टेशन पर कांग्रेस और महागठबंधन के लोगों ने जोरदार स्वागत किया। बताया जा रहा है कि राजद का एक बड़ा तबका उनसे खफा है, लेकिन तारिक ने मीडिया से बातचीत के दौरान दो टूक कह दिया कि वो जल्द ही इस नाराजगी को खत्म कर देंगे।

वहीं, कांग्रेस की ओर से कटिहार से प्रत्याशी बनाए जाने के बाद तारिक अनवर से जब सवाल किया गया कि इस बार अगर वो चुनाव जीतने में सफल रहते हैं, तो उनकी क्या प्राथमिकता रहेगी?

इस पर उन्होंने कहा, ‘कटिहार पिछड़ा इलाका है। ऐसे में अगर मुझे इस बार यहां से जनता का आशीर्वाद मिलता है, तो मैं यहां के विकास के लिए काम करूंगा। इससे पहले जब-जब मैं इस सीट से सांसद बना, तो मैं यहां के लिए कुछ ना कुछ किया। कई ऐसी योजनाएं लेकर आया, जिससे यहां के लोगों को फायदा पहुंच सके।”

उन्होंने कहा, “हमारी कोशिश रहेगी कि यहां कल कारखाने स्थापित हों, ताकि लोगों को रोजगार मिले और उनका पलायन रूक सके।”

वहीं, जब उनसे यह पूछा गया कि राजद आपसे नाराज है, तो इस पर उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर मैं राजद की नाराजगी को दूर करने का काम करूंगा।

इसके अलावा उनसे जब पूछा गया कि इस बार यहां से आपको टिकट देने में विलंब किया गया, इसे आप कैसे देखते हैं। उन्होंने कहा कि मैं हमेशा ही कटिहार की जनता की सेवा में तत्पर रहा हूं। हारने के बावजूद भी मैं कटिहार की जनता की खिदमत में रहा हूं और रहूंगा।

हरीश रावत करेंगे यूपी में चुनाव प्रचार, स्टार प्रचारकों की लिस्ट में शामिल

देहरादून
उत्तराखंड में 19 अप्रैल को 5 लोकसभा सीटों के लिए मतदान होना है। सभी पार्टियां अपनी जीत के लिए अब मैदान में आ गई हैं। हरिद्वार सीट से कांग्रेस ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बेटे को टिकट दिया है, जिसके प्रचार की कमान खुद पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने संभाली हुई है। वो अपने बेटे के समर्थन में ताबड़तोड़ जनसंपर्क कर रहे हैं।

वो दिन में कई जनसभाओं को संबोधित कर रहे हैं और हरिद्वार सीट से कांग्रेस को जिताने की जनता से अपील कर रहे हैं। लेकिन अब कांग्रेस ने उन्हें यूपी में स्टार प्रचारक की लिस्ट में शामिल कर दिया है।

कांग्रेस ने अभी तक उत्तराखंड के चुनाव के लिए अपने स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी नहीं की है। उत्तराखंड में पांचों लोकसभा सीटों पर प्रत्याशी खुद ही अपने स्तर पर जनसभाएं कर जनता से अपने पक्ष में समर्थन मांग रहे हैं।

यूपी के लिए स्टार प्रचारकों की लिस्ट में उत्तराखंड कांग्रेस से सिर्फ एक ही नेता का नाम शामिल है।

कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव के.सी. वेणुगोपाल ने यूपी के लिए 40 स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की है जिसमें उत्तराखंड से एकमात्र हरीश रावत का नाम शामिल है।

झारखंड में सीपीआई ने इंडिया गठबंधन से नाता तोड़ चार सीटों पर उतारे प्रत्याशी

रांची
 भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई) ने झारखंड में इंडिया गठबंधन से नाता तोड़कर चार सीट — चतरा, लोहरदगा, पलामू और दुमका में अपने प्रत्याशी उतार दिए हैं। पार्टी की प्रदेश इकाई ने गठबंधन में एक भी सीट नहीं मिलने पर यह फैसला किया।

पार्टी की ओर से आधिकारिक तौर पर जारी पत्र के अनुसार, पलामू से अभय भुइयां, लोहरदगा से महेंद्र उरांव, चतरा से अर्जुन कुमार और दुमका से राजेश कुमार किस्कू प्रत्याशी बनाए गए हैं।

पार्टी के सचिव महेन्द्र पाठक और पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता ने बताया कि पार्टी कुछ और सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी और अकेले दम पर चुनाव लड़ेगी।

पार्टी के राष्ट्रीय परिषद सदस्य प्रमोद कुमार पांडेय ने कहा कि पहले हमारी पार्टी इंडिया गठबंधन का हिस्सा थी, लेकिन अब हम स्वतंत्र रूप से झारखंड के चुनाव मैदान में हैं। हमने गठबंधन के तहत सिर्फ एक सीट हजारीबाग देने का प्रस्ताव रखा था, लेकिन उन्होंने इसे नहीं माना। हमारी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद ने राज्य कमेटी को इसपर निर्णय लेने के लिए अधिकृत किया था।

हजारीबाग सीट पर सीपीआई के भुवनेश्वर मेहता वर्ष 1991 और 2004 में चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे थे। इसी आधार पर पार्टी इस सीट पर दावेदारी कर रही थी।

इंडिया गठबंधन में इस बार हजारीबाग सीट कांग्रेस को दी गई है, जहां से मांडू क्षेत्र के विधायक जयप्रकाश भाई पटेल प्रत्याशी बनाए गए हैं। गठबंधन ने राज्य में सीट शेयरिंग का जो फॉर्मूला तैयार किया है, उसमें वामपंथी दलों में मात्र सीपीआई एमएल को कोडरमा की एक सीट दी गई है। इस सीट पर बगोदर क्षेत्र के सीपीआई एमएल विधायक विनोद सिंह प्रत्याशी बनाए गए हैं।

 

 

 

 

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button