राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

लोकसभा चुनाव में मध्य प्रदेश की 29 में से 25 सीटों पर बीजेपी-कांग्रेस के प्रत्याशियों की स्थिति स्पष्ट

भोपाल
लोकसभा चुनाव को लेकर मध्य प्रदेश की 29 में से 25 सीटों पर बीजेपी-कांग्रेस के प्रत्याशियों की स्थिति स्पष्ट हो गई है. दोनों ही दलों के प्रत्याशी अपनी-अपनी जीत के लिए प्रचार प्रसार में जुटे हुए हैं. एमपी की 29 लोकसभा सीटों में से पांच सीटें ऐसी हैं, जहां बीजेपी के मौजूदा सांसदों का कांग्रेस के मौजूदा विधायकों से मुकाबला होगा.

वहीं बीजेपी ने 11 सीटों पर तो कांग्रेस ने 18 सीटों पर नए उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं. सात सीटों पर बीजेपी-कांग्रेस के नए चेहरों के बीच मुकाबला होगा. बीजेपी द्वारा घोषित किए गए 29 प्रत्याशियों में से 6 सीटों पर महिलाओं को मौका दिया है, जबकि कांग्रेस ने जारी की 25 सीटों की सूची में एक ही महिला को उम्मीदवार बनाया है.

बीजेपी-कांग्रेस में कहां किसके बीच मुकाबला?
सीधी संसदीय सीट से बीजेपी ने डॉ. राजेश मिश्र को प्रत्याशी बनाया है, जबकि कांग्रेस ने कमलेश्वर पटेल को चुनाव रण में उतारा है. इसी तरह शहडोल सीट से बीजेपी ने हिमाद्री सिंह को और कांग्रेस ने फुंदेलाल सिंह मार्कों को, जबलपुर में बीजेपी ने आशीष दुबे को और कांग्रेस ने दिनेश यादव, मंडला में बीजेपी ने फग्गन सिंह कुलस्ते और कांग्रेस ने ओमकार मरकाम को, बालाघाट में बीजेपी ने भारती पारधी और कांग्रेस ने सम्राट सारस्वत को उम्मीदवार बनाया है.

प्रदेश की सहसे हॉट सीटों में शुमार छिंदवाड़ा में बीजेपी ने विवेक बंटी साहू को वर्तमान सांसद और कांग्रेस  प्रत्याशी नकुलनाथ के सामने खड़ा किया है. टीकमगढ़ में बीजेपी ने डॉ. वीरेंद्र कुमार खटीक और कांग्रेस ने पंकज अहिरवार, दमोह में बीजेपी ने राहुल सिंह लोधी और कांग्रेस ने तरवर सिंह लोधी, सतना में बीजेपी ने गणेश सिंह और कांग्रेस ने सिद्धार्थ कुशवाह को, रीवा में बीजेपी ने जनार्दन मिश्र को और कांग्रेस ने नीलम मिश्रा को प्रत्याशी बनाया है.

इस सीट से ताल ठोकेंगे एमपी दो पूर्व सीएम
होशंगाबाद में बीजेपी ने दर्शन सिंह चौधरी को और कांग्रेस ने संजय शर्मा को, बैतूल से बीजेपी ने डीडी उईके को और कांग्रेस ने रामू टेकाम को, भिंड में बीजेपी ने संध्या राय को और कांग्रेस ने फूलसिंह बरैया को उम्मीदवार बनाया है. इसी तरह गुना से बीजेपी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को और कांग्रेस ने राव यादवेंद्र सिंह यादव को, सागर में बीजेपी ने लता वानखेड़े को और कांग्रेस ने गुड्डू राजा बुंदेला, विदिशा से बीजेपी ने पूर्व सीएम शिवराजसिंह चौहान को और कांग्रेस ने प्रताप भानु शर्मा को, भोपाल में बीजेपी ने आलोक शर्मा को और कांग्रेस ने अरुण श्रीवास्तव को, राजमल में बीजेपी ने रोडमल नागर को और कांग्रेस ने पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह को चुनावी रण में उतारा है.

देवास में बीजेपी ने महेंद्र सिंह सोलंकी को और कांग्रेस ने राजेन्द्र मालवीय, उज्जैन में बीजेपी ने अनिल फिरोजिया को और कांग्रेस ने महेश परमार, मंदसौर में बीजेपी ने सुधीर गुप्ता को और कांग्रेस ने दिलीप सिंह गुर्जर, रतलाम में बीजेपी ने अनीता सिंह चौहान को और कांग्रेस ने कांतिलाल भूरिया, धार में बीजेपी ने सावित्री ठाकुर को और कांग्रेस ने राधेश्याम मुवेल, इंदौर में बीजेपी ने शंकर लालवानी को और कांग्रेस ने डॉ. अक्षय कांति बग और खरगोन संसदीय सीट से जहां बीजेपी ने गजेंद्र सिंह पटेल को अपना प्रत्याशी बनाया है, तो दूसरी तरफ कांग्रेस ने पोरलाल खरते को मैदान में उतारा है.

एमपी में ये हैं 29 लोकसभा सीटें
एमपी में 29 लोकसभा सीट हैं, जिसमें इंदौर, मंदसौर, रतलाम, धार, खरगोन, राजगढ़, देवास, गुना, सागर, भोपाल, विदिशा, बैतूल, टीकमगढ़, दमोह, होशंगाबाद, छिंदवाड़ा, खजुराहो, जबलपुर, सतना, रीवा, सीधी, शहडोल, मंडला और बालाघाट शामिल हैं. जिसमें पहले चरण में छह संसदीय सीटों पर 19 अप्रैल को मतदान होना है. इन छह सीटों में छिंदवाड़ा, जबलपुर, बालाघाट, मंडला, शहडोल और सीधी लोकसभा सीट शामिल हैं.

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button