राजनीति

छोटी पार्टियों के कांग्रेस में विलय को लेकर शरद पवार की हालिया टिप्पणी को लेकर राजनीतिक चर्चाएं तेज, भड़के उद्धव

नई दिल्ली
छोटी पार्टियों के कांग्रेस में विलय को लेकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (शरदचंद्र पवार) के अध्यक्ष शरद पवार की हालिया टिप्पणी को लेकर राजनीतिक चर्चाएं तेज हो गई हैं। शरद पवार ने भले ही खुलेतौर पर किसी पार्टी का नाम नहीं लिया है लेकिन उनके सहयोगी ही उन्हें जवाब दे रहे हैं। शिवसेना (यूबीटी) के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी ‘‘छोटी’’ नहीं है जबकि उनके सहयोगी एवं राज्यसभा सदस्य संजय राउत ने कहा कि किसी अन्य दल में विलय करने का सवाल ही नहीं है।

दरअसल एक इंटरव्यू में शरद पवार ने कहा है कि अगले कुछ वर्षों में, कई क्षेत्रीय दल कांग्रेस के साथ अधिक निकटता से जुड़ेंगे या उसके साथ विलय के विकल्प पर विचार कर सकते हैं। राउत ने कहा कि पवार को स्पष्ट करना चाहिए कि क्या वह अपने दल के बारे में बात कर रहे हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने दिन में, पवार की टिप्पणी को लेकर उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा और कहा कि वह पहले से ही कांग्रेस जैसा सोच रखने वाले हो गए हैं, जबकि उप मुख्यमंत्री फडणवीस ने कहा कि इससे पता चलता है कि खुद पवार के लिए अपनी पार्टी को संभाल पाना कितना मुश्किल है।

पुणे जिले में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिंदे और फडणवीस ऐसे बोल रहे हैं जैसे उन्होंने ‘भांग’ खा रखी हो। उन्होंने कहा, ‘‘पवार साहब ने एक सवाल के जवाब में कहा है कि कुछ छोटे क्षेत्रीय दलों का कांग्रेस में विलय हो सकता है। कृपया मुझे बताएं, क्या शिवसेना एक छोटी पार्टी है?’’ इस बीच, कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि वह भविष्य में सबसे पुरानी पार्टी के साथ क्षेत्रीय दलों के संभावित विलय या करीबी जुड़ाव पर राकांपा (शरदचंद्र पवार) अध्यक्ष शरद पवार की टिप्पणियों से सहमत हैं।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button