राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

बाबा केदार की पंचमुखी डोली गौरीकुंड से हुई केदारनाथ प्रस्थान, शुक्रवार को खुलेंगे कपाट

बाबा केदार की पंचमुखी डोली गौरीकुंड से हुई केदारनाथ प्रस्थान, शुक्रवार को खुलेंगे कपाट

बाबा केदार की पंचमुखी डोली गौरीकुंड से अपने धाम हिमालय के लिए रवाना, कल खुलेंगे कपाट

शुक्रवार ब्रह्म मुहूर्त में कपाटोद्घटन पश्चात ग्रीष्म काल के लिए बाबा केदार स्थापित रहेंगे

गौरीकुंड
 भगवान केदारनाथ जी की पंचमुखी डोली ने गुरुवार प्रात: 8.30 बजे अपने तीसरे रात्रि पड़ाव गौरामाई मंदिर, गौरीकुंड से केदारनाथ धाम के लिए प्रस्थान कर गई। आज शाम को डोली धाम पहुंचेगी। जहां शुक्रवार ब्रह्म मुहूर्त में कपाटोद्घटन पश्चात ग्रीष्म काल के लिए बाबा केदार स्थापित रहेंगे।
आज पंचमुखी डोली के केदारनाथ प्रस्थान होते समय श्रद्दालुजनों तथा गौरीगांव के स्कूली बच्चों ने बाबा केदार का जय घोष कर पुष्प वर्षा की। केदारनाथ पैदल मार्ग पर जिला प्रशासन, पुलिस, गढवाल मंडल विकास निगम तथा स्थानीय दुकानदारों ने देव डोली का स्वागत किया।
उल्लेखनीय है कि केदारनाथ धाम के कपाट कल शुक्रवार 10 मई को खुल रहे है। भगवान केदारनाथ की चल विग्रह उत्सव पंचमुखी मूर्ति की देवडोली को कई दशकों से बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के स्वयं सेवक एवं हक- हकूकधारी पांवों में बिना कुछ पहने पैदल चलकर शीतकालीन गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर, उखीमठ से केदारनाथ धाम तक पहुंचाते है।

भगवान केदारनाथ की पंचमुखी डोली गुरुवार प्रात: 8ः30 बजे गौरामाई मंदिर गौरीकुंड से केदारनाथ धाम के लिए प्रस्थान कर गई। श्रद्दालुओं और गौरीगांव के स्कूली बच्चों ने बाबा केदार का जयघोष कर पंचमुखी डोली पर पुष्प वर्षा की । केदारनाथ पैदल मार्ग पर जिला प्रशासन, पुलिस, गढवाल मंडल विकास निगम तथा स्थानीय दुकानदारों ने देव डोली का स्वागत किया। केदारनाथ धाम के कपाट 10 मई को खुलेंगे।

भगवान केदारनाथ की चलविग्रह उत्सव पंचमुखी मूर्ति की देवडोली को कई दशकों से बदरीनाथ केदारनाथ मंदिर समिति के स्वयं सेवक एवं हक- हकूकधारी पांवों में बिना कुछ पहने पैदल चलकर शीतकालीन गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ से केदारनाथ धाम तक पहुंचाते हैं।

छह मई को देवडोली ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ से विश्वनाथ मंदिर गुप्तकाशी से प्रवास के लिए पहुंची और सात मई को दूसरे पड़ाव फाटा पहुंची। आठ मई देर शाम डोली गौरामाता मंदिर गौरीकुंड पहुंची। गौरी माई मंदिर गौरीकुंड से आज बाबा की डोली अपने धाम हिमालय के लिए रवाना हुई। इसके सायंकाल केदारनाथ धाम पहुंचने की संभावना है। यहां डोली भंडार गृह में रात्रि प्रवास करेगी और दस मई को अक्षय तृतीया की पावन बेला में बाबा केदार के कपाट ग्रीष्मकाल के लिए खोल दिए जाएंगे।

बीकेटीसी मीडिया प्रभारी डॉ. हरीश गौड़ ने बताया कि देश-विदेश के सैकड़ों श्रद्धालु भी डोली के साथ केदारनाथ जा रहे हैं। आज गौरीकुंड में केदारनाथ धाम के पुजारी शिवशंकर लिंग, कार्याधिकारी आरसी तिवारी, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी डीएस भुजवाण एवं यदुवीर पुष्पवान, डोली प्रभारी प्रदीप सेमवाल, प्रबंधक कैलाश बगवाड़ी, संजय तिवारी,भरत कुर्मांचली,कुलदीप धर्म्वाण, आलोक बजवाल,संजय कुकरेती सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु मौजूद रहे।

 

ठाणे: ट्रांसपोर्टर से 22.5 लाख की ठगी के आरोप में दो भाइयों के खिलाफ मामला दर्ज

ठाणे,
 महाराष्ट्र के ठाणे शहर में एक ट्रांसपोर्टर से 22.50 लाख रुपये ठगने के आरोप में दो भाईयों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। ट्रांसपोर्टर की फर्म में दोनों आरोपी परिचालन प्रबंधक और मालवहन प्रभारी के रूप में काम करते थे।

नौपाड़ा पुलिस थाने के अधिकारी ने बताया कि आरोपियों ने कंपनी के ट्रक और ट्रेलर चालकों के मार्च के महीने से भुगतान के फर्जी विवरण बनाये और कथित तौर पर उन वाहन सफाईकर्मियों के नाम पर भुगतान लिया, जो ट्रांसपोर्टर के लिए काम नहीं करते थे। मामले की जानकारी फर्म के खातों के निरीक्षण और ऑडिट के दौरान सामने आई।

पुलिस ने कहा कि बाद में दोनों आरोपी ठाणे में अपने आवास से भाग गए। वे आधिकारिक उपयोग के लिए दिए गए मोबाइल फोन और एक लैपटॉप भी साथ ले गए। दोनों ने ट्रांसपोर्टर से 22.50 लाख रुपये की ठगी की।

अधिकारी ने कहा कि परिवहन कंपनी के मालिक की शिकायत के बाद पुलिस ने मंगलवार को दोनों आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 408 (आपराधिक विश्वासघात), 379 (चोरी) और 34 (साझा मंशा से कई लोगों द्वारा किए गए कृत्य) के तहत मामला दर्ज किया।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button