राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

गर्मी की तपन के बीच अब मौसम खुशनुमा, यहां शुरू हो गईं मॉनसून की गतिविधियां

नई दिल्ली
गर्मी की तपन के बीच अब मौसम खुशनुमा होने वाला है। संभावनाएं जताई जा रही हैं कि देश को जल्द ही लू से निजात मिल सकती है। मौसम के जानकारों का कहना है कि बीते चार दिनों से भारत के पूर्वी हिस्सों में प्री-मॉनसून गतिविधियां देखी जा रही हैं। इधर, IMD यानी मौसम विज्ञान विभाग ने भी गुरुवार को बताया है कि देश के मध्य, पूर्व और दक्षिण प्रायद्वीपीय हिस्सों में 12 मई तक आंधी, बिजली और तेज हवाओं के साथ बारिश होने के आसार हैं।

यहां शुरू हो गईं हैं मॉनसून की गतिविधियां
स्काइमेट वेदर के मुताबिक, अप्रैल में भीषण गर्मी झेल चुके भारत के पूर्वी हिस्सों में बीते चार दिनों से लगातार प्री-मॉनसून गतिविधियां जारी हैं। कोलकाता समेत गंगीय पश्चिम बंगाल में भारी बारिश हुई। वहीं, ओडिशा, झारखंड और बिहार में भी ऐसा ही मौसम रहा। एजेंसी का कहना है कि इन हिस्सों से लू खत्म हो चुकी है। 5 दिनों के दौरान यहां मौसम तेजी से करवट ले सकता है।

मौसमी सिस्टम
एजेंसी का कहना है कि बांग्लादेश और पूर्वोत्तर भारत में साइक्लोनिक सर्कुलेशन हैं। साथ ही झारखंड, बिहार और छत्तीसगढ़ में भी साइक्लोनिक सर्कुलेशन है। राजस्थान, उत्तर प्रदेश और गंगीय पश्चिम बंगाल पर एक सपोर्ट ट्रफ है। इधर, बंगाल की खाड़ी के चलते भी इलाके में काफी नमी बनी हुई है। इनके चलते 9 से 13 मई के बीच इन हिस्सों में प्री मॉनसून गतिविधियां रफ्तार पकड़ सकती हैं। कहा जा रहा है कि इलाकों में गतिविधियां एक साथ नहीं, बल्कि अलग-अलग हिस्सों में होंगी। स्काइमेट के मुताबिक, शुरुआती दो दिनों में गंगीय पश्चिम बंगाल के निचले हिस्सों और उत्तरी ओडिशा के तटीय स्टेशनों पर बारिश के साथ तेज हवाएं चल सकती हैं। 24-48 घंटे की देरी से ओडिशा और झारखंड में मौसमी गतिविधियां शुरू होंगी।

आंधी बिजली के साथ बारिश
IMD ने बताया कि पश्चिमी राजस्थान में शुक्रवार तक लू की स्थिति बनी रहेगी और उसके बाद मौसम में सुधार होने का अनुमान है। आईएमडी के अनुसार, 'पश्चिम बंगाल, सिक्किम बिहार, झारखंड और ओडिशा के अलग-अलग स्थानों पर 12 मई तक भारी बारिश, गरज, बिजली-चमक के साथ 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चलने का अनुमान है।'

मौसम विभाग ने अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर अगले सात दिन के दौरान गरज के साथ बारिश, बिजली चमकने के साथ 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चलने का अनुमान जताया है। अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भी शुक्रवार को भारी बारिश होने के आसार व्यक्त किए गए हैं। दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में अलग-अलग स्थानों पर 12 और 13 मई को; तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में नौ और 12 मई को; रायलसीमा और तेलंगाना में 13 मई को; केरल और माहे में 12, 13 मई को बारिश होने का अनुमान जताया है। मौसम विभाग ने बताया कि गुजरात के तटीय इलाकों में अगले पांच दिनों तक गर्म और आर्द्र मौसम बना रहेगा।

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button