खेल जगत

लखनऊ सुपर जायंट्स पर IPL का 10 करोड़ रुपये बकाया? UP पुल‍िस ने बखेड़ा होने पर बताई सच्चाई

लखनऊ.

इंड‍ियन प्रीम‍ियर लीग (IPL) 2024 खेल रही लखनऊ सुपर जायंट्स (LSG) टीम को लेकर यूपी पुलिस (UP Police) की एंट्री हुई है. लखनऊ टीम को लेकर कुछ मीडिया रिपोर्टों में यह दावा किया गया था उन पर 10 करोड़ रुपये का बकाया है. अब इसी पूरे मामले के वायरल होने के बाद यूपी पुलिस ने बयान आया है. ज‍िसमें मामले की सच्चाई बताई गई है.

दरअसल, मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया था कि आईपीएल की लखनऊ सुपर जायंट्स (LSG) टीम ने लखनऊ पुलिस को सुरक्षा का 10 करोड़ का भुगतान ही नहीं किया था. यूपी सरकार के गृह विभाग की तरफ से भी बकाए की वसूली के प्रयास नही हुए, जबकि लखनऊ में 7 मैच खेले गए. अब इसी पूरी रिपोर्ट पर यूपी पुलिस की ओर से सफाई दी गई है. यूपी पुलिस ने मामले की सच्चाई बताई है. ज्वाइंट सीपी लॉ एंड ऑर्डर (JCP law order) उपेंद्र कुमार अग्रवाल (Upendra Kumar Agarwal) ने कहा ये सूचना सही नहीं है. पुलिस की ओर से लखनऊ सुपर जायंट्स को ई बिल नहीं भेजा गया है. हम इस चीज को कैलकुलेट कर रहे हैं कि LSG के मैच में कितने लोग (पुल‍िस बल) तैनात किए गए थे. उसके बाद ही लखनऊ पुलिस LSG के मैनेजमेंट को बिल भेजेगी. पुलिस चुनावी तैनाती में व्यस्त है, पांचवें चरण यानी मतदान के बाद बिल लखनऊ भेजा जाएगा. दरअसल, इस रिपोर्ट के आने के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स ने खूब सवाल उठाए थे. कई क्रिकेट फैन्स ने इस रिपोर्ट को सही मानकर इसे भ्रष्टाचार बताया था. वहीं कई लोगों ने तो इसे लेकर LSG के माल‍िक संजीव गोएनका को भी सोशल मीडिया पर घेरा था.

लखनऊ सुपर जायंट्स टीम की हालत पतली…
वहीं लखनऊ सुपर जायंट्स टीम की हालत अब आईपीएल 2024 में डांवाडोल दिख रही है. लखनऊ की टीम ने अब तक इस आईपीएल 2024 में 12 में से 6 मैच जीते हैं, वो प्वाइंट्स टेबल में छठे नंबर पर है. उसके प्लेऑफ में पहुंचने की संभावना अब आगे के सभी मैच जीतने पर और दूसरी टीम के नतीजों पर न‍िर्भर करेगी. दरअसल, 8 मई को हुए मैच में लखनऊ सुपर जायंट्स को सनराइजर्स हैदराबाद से शर्मनाक हार मिली थी. वहीं इस मैच के बाद बाद केएल राहुल के साथ LSG के मलिक संजीव गोयनका द्वारा की गई बदसलूकी भी चर्चा में रही.

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button