राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

उत्सर्ग एक्सप्रेस के इंजन पर चढ़ गया युवक, हाईटेंशन तार की चपेट में आने से जिंदा जला

उत्तर प्रदेश

यूपी के बलिया से एक सनसीखेज मामला सामने आया है। जहां डाउन उत्सर्ग एक्सप्रेस के ऊपर चढ़े एक युवक की शनिवार की सुबह हाईटेंशन करंट की चपेट में आकर मौत हो गई। ट्रेन के इंजन के ऊपर लगे पेंटोग्राफ में युवक के शव के फंसे होने के चलते गाड़ी करीब तीन घंटे तक बांसडीहरोड स्टेशन पर खड़ी रही। हालांकि इसके चलते अन्य किसी ट्रेन का परिचालन प्रभावित नहीं हुआ।उधर सूचना मिनले पर राजकीय रेल पुलिस ने शव को कब्जा में लेकर जांच पड़ताल में जुट गई।

फर्रुखाबाद जंक्शन से चलकर छपरा जंक्शन तक जाने वाली 15084 उत्सर्ग एक्सप्रेस अपने निर्धारित समय से कुछ देर से बलिया रेलवे स्टेशन से आगे के लिए रवाना हुई। गाड़ी बलिया-छपरा रेलखंड से गुजर रही थी। इसी बीच शहर से सटे रघुनाथपुर के पास काम कर रहे रेलकर्मी की नजर ट्रेन के ऊपर मौजूद एक युवक पर पड़ी। उन्होंने रेलवे क्रासिंग के गेटमैन को इसकी जानकारी दी। जिसके बाद गेटमैन ने बांसडीहरोड के स्टेशन मास्टर को बताया।

ट्रेन सुबह के करीब 7.20 बजे जब स्थानीय रेलवे स्टेशन पर पहुंची तो स्टेशन मास्टर ने ट्रेन को रोक दिया। इसके बाद स्टेशन मास्टर, गार्ड व अन्य कर्मचारी युवक को नीचे उतरने के लिए आवाज लगाने लगे। हालांकि युवक नीचे उतरने की बजाय इंजन पर पहुंच गया और उसके पेंटोग्राफ में प्रवाहित हो रहे 25 हजार वोल्ट की बिजली की जद में आकर जल गया। उसका शव पेंटोग्राफ में फंस गया, लिहाजा तेज आवाज के साथ कुछ देर तक लपटें उठती रहीं। यह देख वहां पर लोगों में हड़कंप मच गया। वहीं, शव के पेंटोग्राफ में फंसे होने के चलते ट्रेन में तकनीकी गड़बड़ी आ गयी, लिहाजा गाड़ी स्टेशन पर ही खड़ी हो गयी। स्टेशन मास्टर ने रेलवे कंट्रोल रूम और यांत्रिकी विभाग को अवगत कराया। करीब एक घंटे बाद मरम्मत यान लेकर पहुंचे रेलकर्मियों ने पेंटोग्राफ में फंसे शव को निकालने के बाद स्ट्रेचर के सहारे नीचे उतारा। इसके बाद जीआरपी ने शव को कब्जा में ले लिया।

युवक की नहीं हो सकी पहचान
प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो डिब्बों की ओर बैठे युवक को जैसे ही नीचे उतारने का प्रयास शुरू हुआ, वह कुछ देर तक इधर-उधर भागता रहा। इसी बीच वह इंजन पर पहुंच गया, लिहाजा 25 हजार वोल्ट (25 केवी) करंट की जद में आ गया। पेंटोग्राफ के सम्पर्क में आते ही युवक का शरीर तेज आवाज के साथ धूं-धूं कर जल गया। लोगों का कहना है कि युवक बलिया रेलवे स्टेशन से ही डाउन उत्सर्ग एक्सप्रेस के छत पर सवार हो गया था। आशंका व्यक्त की जा रही है कि वह मानसिक रूप से अस्वस्थ भी हो सकता है। रेल पुलिस का कहना है कि युवक के पास से ऐसा कुछ भी नहीं मिला है, जिसके आधार पर उसकी पहचान हो सके। उसकी शिनाख्त के प्रयास किये जा रहे हैं।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button