राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

कानपुर में मतदान वाले दिन बवाल, आपस में भिड़े बीजेपी और कांग्रेस कार्यकर्ता

कानपुर

कानपुर में मतदान वाले दिन (13 मई) 'INDIA' गठबंधन और बीजेपी समर्थक आपस में भिड़ गए. शाम के करीब 5:30 बजे दोनों गुटों में जमकर मारपीट हुई. बताया जा रहा है कि गठबंधन के उम्मीदवार आलोक मिश्रा (Alok Mishra) और बीजेपी उम्मीदवार रमेश अवस्थी (Ramesh Awasthi) के समर्थकों के बीच लात-घूंसे चले और पथराव हुआ. मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह लोगों को शांत कराया, इस दौरान इलाके में अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया.

दरअसल, बीते दिन वोटिंग के लिए कानपुर में बर्रा-2 के आरएस एजूकेशन सेंटर में मतदान केंद्र बना था. तभी यहां पर देर शाम 5:30 बजे के करीब इंडिया अलाइंस के प्रत्याशी आलोक मिश्रा के समर्थक और बीजेपी कार्यकर्ताओं में बहस हो गई, जो इतनी बढ़ गई कि देखते ही देखते दोनों में मारपीट होने लगी.

थोड़ी देर बाद नौबत ये आ गई कि पथराव होने लगा, इससे मतदान केंद्र पर लोग सहम गए. कई लोग तो भाग निकले. झड़प में बीजेपी के कई कार्यकर्ता घायल हो गए. जिसके बाद घटना से आक्रोशित भाजपाई बर्रा थाना पहुंचे गए और खूब हंगामा किया. आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए पूरा थाना घेर लिया. जिसके चलते कई थानों की फोर्स बुलानी पड़ी.

जानकारी के अनुसार, मतदान खत्म होने के बाद बर्रा के यादव मार्केट इलाके मे स्थित आरएस एजुकेशन सेंटर पोलिंग बूथ के बाहर बीजेपी और कांग्रेस प्रत्याशी के कैंप लगे थे. जब दोनों ओर के कार्यकर्ता अपना-अपना कैंप हटा रहे थे तो उसी दौरान दोनों तरफ से नारेबाजी शुरू हो गई.  देखते ही देखते ये नारेबाजी मारपीट में तब्दील हो गई. दोनों तरफ से मारपीट और पथराव शुरू हो गया, जिसमे बीजेपी के दो-तीन कार्यकर्ता गंभीर रूप से घायल हो गए.

इस बीच सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस जब कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ताओं को हिरासत में लेकर थाने जाने ले जाने लगी तभी आरोप है कि बीजेपी कार्यकर्ताओ द्वारा उनके साथ मारपीट की गई. जैसे-तैसे पुलिस उपद्रव में शामिल लोगों को थाने ले गई, जिसके बाद बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता और नेता थाने पर पहुंच गए और नारेबाजी व हंगामा करने लगे.

थाने में हंगामे की सूचना पाते ही मौके पर पुलिस अधिकारी पूरे अमले के साथ पहुंच गए. उन्होंने नाराज बीजेपी कार्यकर्ताओ को शांत कराने का प्रयास कर एक्शन लेने का आश्वासन दिया, जिसके बाद बवाल शांत हुआ. उधर, घायल बीजेपी कार्यकर्ता संजय पासवान ने आरोप लगाया है कि कांग्रेसी कार्यकर्ता मोदी और योगी को अपशब्द कह रहे थे जिसका विरोध करने पर उन्होंने पथराव किया.

फिलहाल, पुलिस जांच-पड़ताल में जुटी हुई है. बवाल का वीडियो सामने आया है. लोग इधर-उधर भागते नजर आ रहे हैं. वीडियो में मारपीट और गाली-गलौच होती दिख रही है. पुलिस ने बताया कि संजय पासवान की तहरीर पर 307 और एससी-एसटी का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button