राजनीति

जयराम रमेश ने आज मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा पर हमला करते हुए केंद्र सरकार पर “धनतंत्र” चलाने का आरोप लगाया

नई दिल्ली
कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर हमला करते हुए केंद्र सरकार पर "धनतंत्र" चलाने का आरोप लगाया और दावा किया कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भाजपा की कोई 'लहर' नहीं है, केवल 'ज़हर' है। मंगलवार को यहां मीडिया से बात करते हुए वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा, “राहुल गांधी और अन्य नेता कह रहे हैं कि संविधान खतरे में है और लोकतंत्र खतरे में है क्योंकि केंद्र सरकार “धनतंत्र” चला रही है, न कि प्रजातंत्र।"

'लोकतंत्र नहीं, सरकार धनतंत्र चला रही'
जयराम रमेश ने कहा, "सरकार धनतंत्र चला रही है, लोकतंत्र नहीं।" प्लूटोक्रेसी एक शब्द है जिसका उपयोग ऐसी सरकार या समाज का वर्णन करने के लिए किया जाता है जहां अमीरों का प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से नियंत्रण होता है। राजनीतिक विचारकों और दार्शनिकों ने अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों की अनदेखी करने, अपनी शक्ति का उपयोग अपने उद्देश्यों की पूर्ति के लिए करने और गरीबी बढ़ाने के लिए धनपतियों की आलोचना की है।

'हम संविधान बचाने के लिए चुनाव लड़ रहे'
उन्होंने कहा, "हम यह चुनाव संविधान को बचाने के लिए लड़ रहे हैं। हमने लोकसभा चुनाव के लिए 5 'न्याय' दिए हैं। हमने विधानसभा चुनाव के लिए भी 10 वादे किए हैं।" 5 'न्याय' हैं — नारी न्याय, युवा न्याय, किसान न्याय, श्रमिक न्याय और हिस्सेदारी न्याय। कांग्रेस पार्टी ने वादा किया है कि "हाथ बदलेगा हालात।" प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए जयराम रमेश ने कहा, ''पीएम मोदी की भाषा से साफ है कि वह भ्रमित हैं। वह कभी अडानी-अंबानी की बात करते हैं, कभी हिंदू-मुस्लिम, मुस्लिम लीग और मंगलसूत्र की बात करते हैं। '' उन्हें एहसास हो गया है कि किसान, युवा, मजदूर, महिलाएं और पिछड़ा वर्ग उनसे परेशान है।”

PM मोदी के नेतृत्व में भाजपा की कोई लहर नहीं
उन्होंने कहा, "यह चुनाव हमारे लिए बेहद महत्वपूर्ण है। पिछले दशक में हमने जो देखा है, उससे हम मानते हैं कि बदलाव का समय आ गया है। पीएम की भाषा में कोई 'लहर' नहीं है, केवल 'ज़हर' है।" इससे पहले सोमवार को कांग्रेस के राहुल गांधी और पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने मतदाताओं से 'न्याय' के पक्ष में माहौल बदलने और बड़ी संख्या में अपने मताधिकार का प्रयोग करने का आग्रह किया था। युवाओं के लिए नौकरियों की गारंटी और महिलाओं को वित्तीय सहायता के कांग्रेस के वादे को दोहराते हुए राहुल गांधी ने मतदाताओं से अपने मुद्दों पर वोट करने और "विचलित न होने" की अपील की।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button