RO NO. 12737/143
जिलेवार ख़बरें

छत्तीसगढ़ में पेश हुआ पेपरलेस डिजिटल बजट, किसानों को ब्याजमुक्त ऋण देने का किया ऐलान

RO NO. 12737/143

रायपुर
छत्तीसगढ़ की साय सरकार आज अपना बजट पेश किया । दिसंबर में सरकार चुनकर आई, इसके बाद एक महीने के भीतर वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने अलग-अलग विभागों के मंत्री और अफसरों के साथ बैठकर इसे तैयार किया है। पिछली बार सरकार में रहते हुए पूर्व CM भूपेश बघेल ने बतौर वित्त मंत्री 1 लाख 21 हजार 500 करोड़ का बजट पेश किया था।बजट को अमृतकाल के नींव का बजट और GREAT CG की थीम पर तैयार किया गया है। इसके जरिए केंद्र सरकार के अमृत काल को भी प्रोजेक्ट करने का प्रयास किया गया है।
 छत्तीसगढ़ के इतिहास में पहली बार शुक्रवार को पेपरलेस डिजिटल बजट पेश हुआ। वित्त मंत्री ओपी चौधरी प्रदेश का बजट पेश कर रहे हैं। सबसे खास बात यह है कि 20 साल बाद कोई वित्त मंत्री छत्तीसगढ़ का बजट पेश कर रहे हैं, और वह भी पेपरलेस।

इस बार ब्रीफकेस पर पहली बार भारत माता और छत्तीसगढ़ महतारी की तस्वीर देखने के मिल रही है। इसके साथ ही बजट ब्रीफकेस में छत्तीसगढ़ के आदिम जनजाति कला की प्रसिद्ध पहचान ‘ढोकरा शिल्प’ की झलक नजर आई। गौरतलब है कि हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ग्रीस के प्रधानमंत्री को छत्तीसगढ़ की डोकरा कलाकृति भेंट की गई थी जिससे इस कला की पहचान अंतर्राष्ट्रीय स्तर तक पहुंची है।

वित्त विभाग की जिम्मेदारी मिलने के बाद ओपी चौधरी ने अलग-अलग विभाग के मंत्रियों और अफसरों के साथ बैठक की, फिर चर्चा के बाद प्रदेश के बजट तैयार किया है।

ओपी चौधरी के बजट ब्रीफकेस में भारत माता और छत्तीसगढ़ महतारी की फोटो है जो यह दर्शा रही हैं कि विकसित भारत निर्माण में छत्तीसगढ़ प्रदेश का योगदान बहुत महत्वपूर्ण साबित होगा। ब्रीफकेस पर छत्तीसगढ़ शासन का लोगो जिसमें धान की बाली है, यह दर्शाती है कि यह किसान हितैषी सरकार है और किसानों के हित को सदैव प्राथमिकता में रखेगी।

इस ब्रीफकेस में छत्तीसगढ़ के मैप को स्वर्णिम रूप में दर्शाया गया है जो ये बताता है कि सरकार सुशासन के साथ छत्तीसगढ़ के युवा, महिला व किसानों की आय में वृद्धि करने के उद्देश्य के साथ कार्य करेगी और छत्तीसगढ़ राज्य को देश में एक स्वर्णिम राज्य के रूप मे स्थापित करेगी।

इस ब्रीफकेस में अमृतकाल के नींव का बजट लिखा हुआ है जो यह दर्शाता है कि केंद्र की सभी योजनाओं का लाभ प्रदेश की जनता को निरंतर मिलता रहेगा। इसके साथ ही ब्रीफ़केस के पीछे GREAT CG लिखा है जो Guarantee, Reform, Economic Growth, Achievement, Technology, Сарех तथा Good Governance को दर्शाता है।

छत्तीसगढ़ बजट 2024 की प्रमुख घोषणाएं:

  •     हमें जनता ने छत्तीसगढ़ की सेवा करने का अवसर दिया है।
  •     छत्तीसगढ़ को नई विकास की दिशा में ले जाना हमारा लक्ष्य है।
  •     अंधेरों के बीच उजाले का हम लक्ष्य रखते हैं।
  •     वित्त मंत्री ने बच्चन जी की पंक्ति के साथ शुरू किया भाषण।
  •     पीएम मोदी के नेतृत्व में किए जा रहे काम देख रही है दुनिया।
  •     देश नई संकल्प और नई ऊर्जा के साथ बढ़ रहा है।
  •     विकास यात्रा का शुक्ल पक्ष शुरू हो गया है।
  •     विष्णुदेव सुशासन की शुरुआत हो गई है।
  •     2047 तक कैसे विकसित राज्य बने इसका रोडमेप तैयार करेंगे।
  •     यह बजट अमृतकाल के नींव का बजट है।
  •     10 लाख करोड़ जीडीपी करना हमारा लक्ष्य है।
  •     10 लाख करोड़ की जीडीपी तक पहुंचने के लिए 10 स्तंभ तैयार किये हैं।
  •     पिछली सरकार में काफी भ्रष्टाचार हुआ। किसानों से लूट की गई है।
  •     किसी को 6 रुपये तक नहीं मिला है। युवाओं के साथ भी अन्यया हुआ है।
  •     बस्तर पर हमारा फोकर होगा। छत्तीसगढ़ की संस्कृति का विकास करना हमारा लक्ष्य
  •     भारत को सूपर पावर बनते हमारी पीढ़ी देख रही है।
  •     आज देश अमृतकाल की ओर बढ़ रहा है, लेकिन छत्तीसगढ़ के विकास को ग्रहण लग गया था।
  •     भिलाई और आस-पास के इलाकों को विकसित किया गया।
  •     दुर्ग में सेंटर ऑफ इंटरफ्रिनोरशिप सेंटर होगी।
  •     बीपीओ और केपीओ के लिए आईटी पार्क बनाया जाएगा।
  •     विभिन्न विभागों को तकनीकी रूप से मजबूत करने के लिए 266 करोड़ रुपये का प्रावधान।
  •     पूंजीगत व्यय को सुनिश्चित करना लक्ष्य, पिछली साल की तुलना में 20 प्रतिशत वृद्धि किया गया।
  •     प्राकृतिक संसाधनों का उचित इस्तेमाल करेंगे। इको टूरिजम विकसित करना, 5 शक्तिपीठ की स्थापना होगी।
  •     राज्य में निजी निवेश को सुनिश्चित करेंगे। पीपीपी मोड पर प्राइवेट इनवेसेंट को बढ़ावा देंगे।
  •     बस्तर और सरगुजा को फोकस करेंगे, आर्थिक विकास करेंगे।
  •     छत्तीसगढ़ आर्थिक सहालाकार काउंसिल का होगा गठन

    साय सरकार का GYAN पर फोकस

    G – गरीब

    Y- युवा

    A – अन्नदाता

    N- नारी

  •     1 मार्च से महिलाओं को महातारी वंदन योजना का लाभ मिलेगा। सालाना 12 हजार रुपये मिलेंगे।
  •  
  •     शक्ति पीठ के लिए 5 करोड़, राम लला दर्शन योजना के लिए 35 करोड़, युवाओं के उद्यम योजना, स्टेट कैपिटल योजना के लिए 5 करोड़, इनवेंस्ट छत्तीसगढ़ के लिए भी प्रावधान।
  •  
  •     आवास योजना के लिए दूसरे अनुपूरक में हमने 3800 करोड़ रुपए का प्रावधान किया। अब 8369 करोड़ का प्रावधान अब कर रहे हैं।
  •  
  •     कृषि उन्नति योजना के लिए 10 हजार करोड़ का प्रावधान। नल जल योजना के लिए 4, 500 करोड़ रुपए का प्रावधान।
  •  
  •     शक्तिपीठ योजना के लिए 5 करोड़ का प्रावधान। दीनदयाल उपाध्याय भूमि कृषि मजदूर योजना प्रारंभ करने के लिए 500 करोड़ रुपए का प्रावधान।
  •     युवाओं के लिए छत्तीसगढ़ उद्यम क्रांति योजना का इसी बजट में प्रावधान। स्टेट कैपिटल योजना के लिए 5 करोड़ रुपए का प्रावधान।
  •     कृषि बजट में 33 फीसदी की वृद्धि हुई है, अब इसका कुल 13,438 करोड़ रुपये का प्रावधान हुआ है।
  •     कुनकुरी, रामचंद्रपुर, खडग़ांव, शीलफिलि में कृषि और उद्यानिकी महाविद्यालय की स्थापना की जाएगी। दुर्ग और सरगुजा जिले में कृषि यंत्री कार्यालय की स्थापना।
  •     बजट में पीएम आवास ग्रामीण के लिए 8369 करोड़, महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना 2088 करोड़, स्व सहायता समूहों के लिए 561 करोड़, कचरा प्रबंधन के लिए 400 करोड़ और मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना के लिए 94 करोड़ रुपये का प्रावधान।
  •     14 विकासखंड में नवीन नर्सरी की स्थापना। सिंचाई परियोजनाओं के लिए 300 करोड रुपये का प्रावधान।

जट पेश करते हुए उन्होंने बताया कि मोदी की गांरटी के तहत शक्तिपीठ कार्यक्रम के डीपीआर के लिए 5 करोड़ अलॉकेट किए गए। इसके साथ ही  श्रीराम लला दर्शन योजना के लिए 35 करोड़ दिए गए हैं। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि कृषि क्षेत्र में किसानों, भूमिहीन कषि मजदूरों के लिए 13438 करोड़ दिए गए हैं। बजट पेश करते हुए वित्तमंत्री ओपी चौधरी ने किसानों को ध्यान में रखते हुए किसानों को ब्याजमुक्त ऋण देने का ऐलान किया है साथ ही साढ़े 8 हजार करोड़ का प्रावधान भी किया है।

बजट में कोई नया कर प्रस्ताव नहीं

ओपी चौधरी ने कहा, यह बजट रेवेन्यू सरप्लस वाला बजट है। कोई नया कर प्रस्ताव नहीं है, न ही करो की दरों में वृद्धि का कोई प्रस्ताव है। वित्‍त मंत्री ने कविता पाठ के साथ अपना पहला बजट भाषण समाप्‍त किया।

कटघोरा से डोंगरगढ़ रेल लाइन निर्माण के लिए बड़ी घोषणा

 बजट भाषण में वित्‍त मंत्री ओपी चौधरी ने कहा, प्रदेश में अधो संरचना विकास को प्रोत्साहित करने के लिए 8317 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। प्रदेश के सभी एयरपोर्ट में सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 30 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। कटघोरा से डोंगरगढ़ रेल लाइन निर्माण को तीव्र गति से करने के लिए 300 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

युवा के लिए छत्तीसगढ़ उद्यम क्रांति योजना

ओपी चौधरी ने बजट भाषण में कहा, युवा को स्वरोजगार उपलब्ध कराने के लिए छत्तीसगढ़ उद्यम क्रांति योजना प्रारंभ की जाएगी। सौर सिंचाई सुविधाओं को विस्तार देने के लिए 170 करोड रुपए का प्रावधान किया गया है। स्थानीय उत्पादों को बाजार उपलब्ध करने के लिए यूनिटी मॉल की स्थापना की जाएगी। इसके लिए 80 करोड़ रूप का प्रावधान किया गया है। 200 करोड़ की लागत से यूनिटी माल की स्थापना होगी। 6 लाख 96 हजार कृषि पम्पों को लाभ दिलाने योजना। बिजली बिल हाफ योजना के लिए 1 हजार 274 करोड़ का प्रावधान। एकल बत्ती के लिए 540 करोड़ का प्रावधान।

अटल श्रम शक्ति योजना के लिए 123 करोड़ रुपए का बजट प्रावधान

अटल श्रम शक्ति योजना के लिए 123 करोड़ रुपए का बजट प्रावधान किया गया है। जबकि श्रमेव जयते पोर्टल के विकास के लिए 2 करोड़ रुपए प्रावधान किया गया है।

मजदूरों के लिए दीनदयाल उपाध्याय कृषि योजना

 वित्‍त मंत्री ओपी चौधरी ने बजट भाषण में कहा, शासकीय अस्पतालों में लैब टेक्निशियन के 373 पदों पर भर्ती की जाएगी। दीनदयाल उपाध्याय कृषि मजदूर योजना प्रारंभ करने का इस बजट में प्रावधान किया गया है। प्रत्येक परिवारों को प्रतिवर्ष ₹10000 की आर्थिक सहायता दी जाएगी। इसके लिए 500 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

 मनेंद्रगढ़, कुनकुरी में 220 बिस्तर वाले अस्पताल की स्थापना

 राजधानी में साइंस सिटी के लिए 34 करोड़। स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए 1500 करोड रुपए का प्रावधान। सिम्स के नवनिर्माण के लिए 700 करोड़ रुपए का प्रावधान। मेकाहारा रायपुर के लिए 773 करोड़। मनेंद्रगढ़, कुनकुरी में 220 बिस्तर वाले अस्पताल की स्थापना की जाएगी।

 रायपुर में फॉरेंसिक साइंस की प्रयोगशाला की स्‍थापना
 वित्‍त मंत्री चौधरी ने बजट 2024 में पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय रायपुर में फॉरेंसिक साइंस की प्रयोगशाला स्थापित किए जाने की घोषणा की।  नवा रायपुर अटल नगर में संगीत महाविद्यालय प्रारंभ किया जाएगा। नवीन औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान पिपरिया में।

 छत्तीसगढ़ प्रौद्योगिकी संस्थानों की स्थापना होगी

 राष्ट्रीय स्तर पर स्थापित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों की भांति प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में छत्तीसगढ़ प्रौद्योगिकी संस्थानों की स्थापना की जाएगी। पंडित रविशंकर शुक्ला महाविद्यालय रायपुर में स्टार्टअप इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय इंस्ट्रूमेंटेशन फैसिलिटी का उन्नयन किया जाएगा। व्यवसाय मूलक पाठ्यक्रम के रूप में वाणिज्य अध्ययन शाला प्रारंभ की जाएगी।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू किया जाएगा

 राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 लागू किया जाएगा। ओपी चौधरी ने बजट 2024 में छत्तीसगढ़ प्रौद्योगिकी संस्थानों की स्थापना किए जाने की घोषणा की। उन्‍होंने कहा, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित सिस्टम की मदद से शिक्षा व्यवस्था को सुधारा जाए। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के प्रावधानों के अनुरूप रिसर्च इनोवेशन के लिए परिषद का गठन किया जाएगा।

चरण पादुका के लिए 35 करोड़ का प्रावधान

बजट में गोंडी भाषा के विकास के लिए 2 करोड़ 50 लाख का प्रावधान किया गया है। आदिभाषाओं के संरक्षण और विकास के लिए प्रावधान। संवर्धन से जुड़े कार्यों के क्रियान्वयन के लिए कैंप में 1 हजार करोड़ रुपए का प्रावधान। चरण पादुका के लिए 35 करोड़ का प्रावधान। हाथी मानव द्वंद से बचाव के लिए रैपिड रिस्पांस टीम के गठन के लिए 20 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

 रायपुर, बिलासपुर स्मार्ट सिटी के लिए 402 करोड़ का प्रावधान

 वित्‍त मंत्री ने स्मार्ट सिटी के लिए भी बजट 2024 में बड़ी घोषणाएं की है। रायपुर, बिलासपुर स्मार्ट सिटी के लिए 402 करोड़ का प्रावधान किया गया है। पर्यटन एवं संस्कृति मुख्यमंत्री जन पर्यटन योजना प्रारंभ की जाएगी। प्रदेश के पांच शक्तिपीठों के विकास के लिए योजना के लिए 5 करोड़ का प्रावधान किया गया है।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

RO NO. 12737/143

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button