RO NO.12737/143
राजनीति

छिंदवाड़ा में हुई बैठक में फैसला, लोकसभा चुनाव के लिए नकुलनाथ कांग्रेस के प्रत्याशी घोषित

RO NO. 12710/141

 छिंदवाड़ा

ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी भले ही अभी लोकसभा चुनाव के प्रत्याशी घोषित नहीं कर पाई है। लेकिन,  छिंदवाड़ा में नकुलनाथ को लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी घोषित कर दिया गया है। इसे लेकर कांग्रेस कार्यालय में एक बैठक आयोजित की गई, जिसमें चुनाव की तैयारियों को लेकर चर्चा की गई। इस बैठक में तमाम पर्यवेक्षकों के अलावा कांग्रेस जिला अध्यक्ष विश्वनाथ ओकटे, गंगा प्रसाद तिवारी समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद थे। बैठक में चुनाव को लेकर रणनीति बनाने के साथ ही यह कहा गया कि नकुलनाथ छिंदवाड़ा से चुनाव लड़ेंगे। इसे लेकर बाकायदा एक प्रेस विज्ञप्ति भी जारी की गई है।

कांग्रेस में जाने के अटकलों के बीच हुई बैठक
बता दें की पूर्व सीएम कमलनाथ और उनके बेटे सांसद नकुलनाथ के भाजपा में शामिल होने की चर्चा भी लगातार जोर पकड़ रही है। पिछले दिनों कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में मीडिया से चर्चा के दौरान इन अटकलों खारिज किया था। इन सब चर्चा के बीच छिंदवाड़ा में बैठक कर नकुलनाथ को प्रत्याशी घोषित कर दिया गया है। हालांकि,  AICC की ओर से इस तरह कोई घोषणा नहीं की गई है।

बता दें कि सीएम मोहन यादव समेत भाजपा नेताओं के साथ कमलनाथ की फोटो सामने आने के बाद उनके भाजपा में शामिल होने की चर्चा शुरू हुई थी। हालांकि, इस मुलाकात को  शिष्टाचार भेंट बताया गया था। लेकिन, अब भी इस तरह की अटकलों का बाजार गर्म है। माना जा रहा है कि इस तरह की चर्चाओं पर विराम लगाने के लिए ही नकुलनाथ को लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार घोषित किया गया है। जिससे कार्यकर्ताओं और लोगों के बीच भ्रम की स्थिति न रहे।

छिंदवाड़ा से लड़ सकते हैं शिवराज सिंह

हाल ही में मध्य प्रदेश भाजपा चुनाव समिति की बैठक में लोकसभा की जिन छह संसदीय सीटों के प्रत्याशियों के नाम पर चर्चा की गई, उनमें कई पूर्व केंद्रीय मंत्रियों के नाम भी शामिल हैं जिन्होंने विधानसभा चुनाव जीता है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी लोकसभा चुनाव लड़ाने पर चर्चा हुई। कहा गया कि कांग्रेस के गढ़ छिंदवाड़ा में भाजपा का परचम फहराने के लिए शिवराज सिंह को प्रत्याशी बनाया जाए।
कौन है छिंदवाड़ा का वर्तमान सांसद?

कमल नाथ के बेटे नकुल नाथ फिलहाल यहां से सांसद हैं। कमल नाथ की पत्नी अलका नाथ भी छिंदवाड़ा का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। नकुल नाथ पूरे प्रदेश में कांग्रेस के इकलौते सांसद हैं। यहां की जनता ने कांग्रेस को कभी निराश नहीं किया। छिंदवाड़ा लोकसभा क्षेत्र में सात विधानसभा सीटें आती हैं। इनमें से तीन सीटें एसटी के लिए आरक्षित हैं। पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने सभी सातों सीटें जीती थीं।
लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम

लोकसभा चुनाव 2019 में छिंदवाड़ा लोकसभा सीट को छोड़कर भाजपा ने मध्य प्रदेश की 29 में से 28 सीटों पर जीत दर्ज की थी। कांग्रेस के नकुल नाथ को 54,7305 (47.06%) वोट मिले थे। वहीं नकुल नाथ से हारने वाले भाजपा उम्मीदवार नाथन शाह को 5.09 लाख वोट मिले थे। इस सीट पर तीसरे स्थान पर ABGP पार्टी के मनमोहन शाह बट्टी थे।
छिंदवाड़ा संसदीय क्षेत्र में कितनी विधानसभाएं?

इस संसदीय क्षेत्र में छिंदवाड़ा, परासिया, सौंसर, पांढुर्णा, जुन्नारदेव, चौरई और अमरवाड़ा समेत सात विधानसभाएं शामिल हैं। छिंदवाड़ा में कुल 15,12,369 मतदाता हैं। जिनमें से पुरुष मतदाता -7,71,601, महिला मतदाता- 7,40,740 और थर्ड जेंडर के 28 वोटर्स हैं।

जातीय समीकरण

2011 की जनगणना के आधार पर छिंदवाड़ा की संसदीय सीट के समीकरण की बात करें तो यहां लगभग 11.1% (167,085) अनुसूचित जाति के वोटर्स हैं। वहीं, सीट पर अनुसूचित जनजाति (एसटी) की आबादी 36.2% (544,907) है। साथ ही मुस्लिम मतदाता 4.7% (71,152) हैं। इस सीट पर ग्रामीण मतदाता 75.3% (1,133,466) और शहरी मतदाता 24.7% (371,801) हैं।

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

RO NO.12737/143

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button