RO NO. 12737/143
खेल जगत

नागल 23 पायदान की छलांग से एटीपी एकल रैंकिंग में शीर्ष 100 में

RO NO. 12710/141

नागल 23 पायदान की छलांग से एटीपी एकल रैंकिंग में शीर्ष 100 में

विश्व एक्वेटिक्स चैंपियनशिप: पैन झानले ने 100 मीटर फ्रीस्टाइल में बनाया नया विश्व रिकॉर्ड

एरिका फेयरवेदर ने न्यूजीलैंड के लिए पहला विश्व तैराकी खिताब जीता

नई दिल्ली
 भारत के शीर्ष एकल खिलाड़ी सुमित नागल ने 23 पायदान की छलांग लगाकर अपने करियर में पहली बार एटीपी एकल रैंकिंग के शीर्ष 100 में प्रवेश किया। चेन्नई ओपन चैलेंजर में मिली जीत से नागल ताजा जारी एकल रैंकिंग में 98वें स्थान पर पहुंच गये जिसमें शीर्ष पर सर्बियाई स्टार नोवाक जोकोविच काबिज हैं।

पिछले महीने नागल ग्रैंडस्लैम में 35 साल में वरीयता प्राप्त खिलाड़ी को हराने वाले पहले भारतीय बने थे। उन्होंने पहले दौर में दुनिया के 27वें नंबर के कजाखस्तान के एलेक्जैंडर बुबलिक को हराकर उलटफेर किया था, हालांकि दूसरे दौर में वह चीन के जुनचेंग शांग से हार गये थे। 2019 में बायें हाथ के प्रजनेश गुणेश्वरन के शीर्ष 100 में पहुंचने के बाद बाद नागल शीर्ष 100 में जगह बनाने वाले पहले भारतीय हैं।

नागल ने चेन्नई में मिली जीत के बाद कहा, ''मैं बहुत भावुक हूं। हर टेनिस खिलाड़ी का सपना कम से कम शीर्ष 100 में पहुंचना होता है। जैसा कि मैंने पहले कहा कि अपने देश के घरेलू दर्शकों के सामने यह मैच जीतना शानदार है, इसके लिए इससे बेहतर जगह नहीं हो सकती थी।’’

उन्होंने कहा, ''मुझे नहीं लगता कि इसे बयां करने के लिए शब्द थे। हर कोई रो रहा था। शब्द कम थे, आंसू ज्यादा। मैं अब भी बहुत भावुक हूं। पिछले साल मेरी रैंकिंग 500 थी, जिसके बाद मेरी सर्जरी हुई और वित्तीय सहयोग भी नहीं था तो पिछला साल काफी मुश्किल रहा।’’ उन्होंने कहा, ''काफी उतार चढ़ाव हुए। मैं खुश हूं कि हर दिन आगे बढ़ने के लिए मुझे एक तरीका मिल गया।’’

विश्व एक्वेटिक्स चैंपियनशिप: पैन झानले ने 100 मीटर फ्रीस्टाइल में बनाया नया विश्व रिकॉर्ड

दोहा
 विश्व एक्वेटिक्स चैंपियनशिप में तैराकी स्पर्धा के पहले दिन चीन के पैन झानले ने पुरुषों की 100 मीटर फ्रीस्टाइल में नया विश्व रिकॉर्ड बनाया। पुरुषों की 4×100 मीटर फ़्रीस्टाइल रिले के शुरुआती चरण में तैराकी करते हुए, पैन ने 46.80 सेकंड का समय निकाला और डेविड पोपोविसी के 46.86 सेकंड के पिछले विश्व रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया।

जीत के बाद 19 वर्षीय खिलाड़ी ने सिन्हुआ के हवाले से कहा, मैं बेहद खुश हूं। विश्व रिकॉर्ड तोड़ने से मुझे खुशी मिलती है, जिससे यह साबित होता है कि प्रशिक्षण का फल मिला है। मेरा लक्ष्य अब और भी तेजी से आगे बढ़ना है। मैं यह अनुमान नहीं लगा सकता कि मैं कितनी तेजी से तैर सकता हूं, लेकिन मुझे उम्मीद है कि मेरा रिकॉर्ड इतनी जल्दी नहीं टूटेगा।

पैन ने कहा, दोहा में मेरा लक्ष्य अब 100 मीटर फ़्रीस्टाइल खिताब है और इस साल ओलंपिक स्वर्ण जीतना मेरा अंतिम लक्ष्य है, और इसका मतलब है कि मुझे और भी कड़ी मेहनत करने की जरूरत है।

पैन के प्रदर्शन से प्रेरित होकर, चीन के बाद के तैराकों जी झिनजी, झांग झांशुओ और वांग हाओयू ने शानदार प्रदर्शन किया और अंततः तीन मिनट और 11.08 सेकंड के समय के साथ तैराकी रिले टीम स्पर्धा में चीन के लिए पहला स्वर्ण पदक हासिल किया।

एलेसेंड्रो मिरेसी, लोरेंजो ज़ज़ेरी, पाओलो कोंटे बोनिन और मैनुअल फ्रिगो द्वारा प्रतिनिधित्व किए गए इटली ने चीन से ठीक एक सेकंड पीछे रजत पदक जीता। मैट किंग, शाइन कैसास, ल्यूक हॉब्सन और कार्सन फोस्टर की संयुक्त राज्य अमेरिका की चौकड़ी ने तीन मिनट और 12.29 सेकंड के साथ कांस्य पदक जीता।

एरिका फेयरवेदर ने न्यूजीलैंड के लिए पहला विश्व तैराकी खिताब जीता

दोहा
 एरिका फेयरवेदर ने वर्ल्ड एक्वेटिक्स चैंपियनशिप में  देश का पहला तैराकी विश्व खिताब जीतकर न्यूजीलैंड के खेल इतिहास में अपना नाम दर्ज करा लिया है। 20 वर्षीय फेयरवेदर ने महिलाओं की 400 मीटर फ्रीस्टाइल स्पर्धा में तीन मिनट और 59.44 सेकेंड के साथ जीत हासिल की।

चीन की ली बिंगजी, जिन्होंने टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों में कांस्य पदक जीता था, ने चार मिनट और 1.62 सेकंड के साथ दूसरा स्थान हासिल किया। जर्मनी की इसाबेल गोज़ ने कांस्य पदक जीता।

दक्षिण कोरिया के किम वू-मिन ने पुरुषों की 400 मीटर फ़्रीस्टाइल में तीन मिनट और 42.71 सेकंड के समय के साथ जीत हासिल की। दूसरे स्थान पर, ऑस्ट्रेलिया के एलिजा विन्निंगटन और तीसरे स्थान पर जर्मनी के लुकास मार्टेंस रहे।

नीदरलैंड ने महिलाओं की 4×100 मीटर फ़्रीस्टाइल रिले में तीन मिनट और 36.61 सेकंड का समय लेकर जीत हासिल की। ऑस्ट्रेलिया ने केवल 0.32 सेकंड से पीछे रहते हुए रजत पदक हासिल किया, जबकि कनाडा ने तीन मिनट और 37.95 सेकंड के समय के साथ कांस्य पदक जीता।

 

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

RO NO. 12737/143

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button