जिलेवार ख़बरें

मकान में लगी भीषण आग, महिला और बच्चे की झुलसने से हुई मौत

बिलासपुर.

बिलासपुर के सिटी कोतवाली क्षेत्र के एक मकान में भीषण आगजनी की घटना के बाद उसमें झुलसे एक महिला और बच्चे की अस्पताल में मौत हो गई है। मकान मालिक द्वारा घर पर रखे थीनर बनाने के लिए तारपीन के कारण आग तेजी से फैली। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच मे जुटी है। बताया जा रहा कि आग लगने की सूचना देने के बाद भी दमकल की टीम घटनास्थल पर देरी से पहुंची, जिस वजह से घर में रखा लाखों का सामान जलकर खाक हो गया है।

वहीं, आग की चपेट में आने से एक महिला और एक बच्चा झुलस गए थे। जिन्हें आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती कराया गया। घायलों को ऐहतियातन आईसीयू में रखा गया है। आग की वजह फिलहाल स्पष्ट नहीं है, लेकिन शॉर्ट सर्किट से आग लगने की आशंका जताई जा रही है । फिलहाल मौके पर दमकल की टीम पहुंच गई है आग पर काबू पाने की भरसक कोशिश की जा रही है। मौके पर पुलिस प्रशासन की टीम भी मौजूद है। एडिशनल एसपी उमेश कश्यप ने बताया कि 31 मार्च को कतीयापारा शिखा वाटिका के पास एक रिहायशी मकान में देर शाम आग लग गई थी। जिसकी सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची और फायर ब्रिगेड को बुलवाया गया। फायर ब्रिगेड द्वारा रेस्क्यू कार्य चलाकर एक महिला और एक बच्चे को बाहर निकल गया।

जिन्हें इलाज के लिए अपोलो अस्पताल भेजा गया। जहां दोनों की मृत्यु हो गई। प्रारंभिक जांच और आसपास के लोगों से पूछताछ में मकान मालिक रोमी कश्यप के द्वारा थीनर बनाने के लिए घर में तारपीन का तेल रखने के कारण आग तेजी से फैल गई। विस्तृत निरीक्षण एवं जांच के लिए इलेक्ट्रिकल इंस्पेक्टर को सूचित किया गया है।

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button