RO NO. 12737/143
राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय

लूट और फूट ही कांग्रेस की ताकत है, इसी से उसे ऑक्सीजन मिलती है – नरेंद्र मोदी

RO NO. 12737/143

झाबुआ.
कांग्रेस के स्थानीय नेता भी अब यह कहने लगे हैं कि मोदी के खिलाफ प्रचार करने जाएं, तो किस मुंह से जाएं। कोई बड़ा नेता जिम्मेदारी उठाना नहीं चाहता। मध्यप्रदेश कांग्रेस में भगदड़ मची हुई है। वास्तव में कांग्रेस अपने अतीत के पापों के दलदल में फंस गई है। इससे निकलने के लिए वो जितने हाथ-पैर मार रही है, उतनी ही धंस रही है। अपनी हार सामने देखकर कांग्रेस और उसके साथी आखिरी दांव चल रहे हैं। इनकी दो ही ताकत हैं-ये सत्ता में रहने पर लूटते हैं और बाहर आकर फूट डालते हैं। ये लोग अब कुर्सी के लिए जाति, भाषा, क्षेत्र के नाम फूट डालने में जुट गए हैं।

अगर लूट और फूट की ऑक्सीजन बंद हो जाए, तो कांग्रेस का सियासी दम घुटने लगता है। देश और प्रदेश की जनता ने ये दोनों ही रास्ते बंद कर दिए हैं और देश कांग्रेस के मंसूबे सफल नहीं होने देगा। यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को झाबुआ में आयोजित जनजातीय महाकुंभ में संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने खरगोन में क्रांतिसूर्य टंट्या मामा विश्वविद्यालय की स्थापना की घोषणा की तथा 7550 करोड़ से अधिक की परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। प्रधानमंत्रीने इस दौरान रोड-शो कर जनता का अभिवादन किया और विभिन्न विकास कार्यों पर आधारित प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया।

आदिवासियों से नफरत करती है कांग्रेस
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कांग्रेस के मन में आदिवासियों के प्रति नफरत कूट-कूटकर भरी हुई है। कांग्रेस के लोग आदिवासी भाईयों से वोट मांगने तो आते हैं, लेकिन जब एक आदिवासी परिवार की महिला राष्ट्रपति के चुनाव में खड़ी हुई, तो कांग्रेस ने तरह-तरह के रोड़े अटकाए। कांग्रेस उनके सामने दीवार बनकर खड़ी हो गई थी। देश इसे भूला नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग चुनाव के समय आदिवासियों के लिए घोषणाएं तो करते हैं, लेकिन जब मोदी गरीबों के लिए, दलितों के लिए, आदिवासियों के लिए घर बनवाता है, तो कांग्रेस के लोग उसे गालियां देते हैं। मोदी ने कहा कि डबल इंजन की सरकार ने मध्यप्रदेश में 45 लाख परिवारों को पक्के मकान दिऐ हैं।

65 लाख घरों में नल कनेक्शन दिए हैं। कांग्रेस के पास भी अवसर था, लेकिन इन्होंने ये लाभ जनता तक पहुंचने नहीं दिए। मध्यप्रदेश के लोग कांग्रेस के इन पापों को भूले नहीं हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि हजारों गांवों को पानी पहुंचाने वाली तलवाड़ा जैसी परियोजना के लिए लोगों को दशकों तक इंतजार करना पड़ा। मोदी ने कहा कि जनजातीय समाज का विकास और सम्मान मोदी की गारंटी है। इसके लिए हमारी सरकार ने जो प्रयास किए हैं, उनके परिणाम अब दिखने लगे हैं।

जनजातीय युवाओं, महिलाओं, किसानों की पहचान बन रही है। उनके बनाए उत्पादों के लिए बड़ा बाजार उपलब्ध है और आदिवासी शिल्प उत्पादों की पहचान पूरी दुनिया में बन गई है। कांग्रेस ने जिन्हें पिछड़ा बताया था, आज उनका गौरव सारी दुनिया जान रही है। मोदी ने कहा कि हमारी सरकार स्व सहायता समूहों को 15000 ड्रोन देगी और इन समूहों की बहनों को नमो ड्रोन दीदी बनाएगी। आने वाले समय में हमारी सरकार 3 करोड़ बहनों को लखपति दीदी बनाऐगी, ये मोदी  की गारंटी है।  

23 में कांग्रेस की छुट्टी हुई, 24 में सफाया तय है
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि झाबुआ में इन दिनों भगोरिया की तैयारियां चल रही हैं और भगौरिया से पहले मुझे मध्यप्रदेश और इस अंचल को सैकड़ों करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं की सौगात देने का सौभाग्य मिला है। हजारों करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण हुआ है, जिनमें रेल परियोजनाएं भी शामिल हैं। आज ही दो लाख बहनों के खातों में आहार अनुदान योजना की 1500 रुपये अनुदान राशि डाली गई है। विकास के इतने सारे काम मध्यप्रदेश में हो रहे हैं।

यहां डबल इंजन की सरकार डबल तेजी से काम कर रही है, जिसका श्रेय यहां की जनता को है और इसके लिए मैं जनता को बधाई देता हूं। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश की जनता ने विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को जो समर्थन दिया, आपने जो विश्वास दिखाया, उसके लिए मैं आपको फिर से ये गारंटी देता हूं कि हम आपके लिए दिन-रात काम करेंगे। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश ने पिछले चुनाव में विपक्ष को जमीनी हकीकत का आईना दिखाया। ऐसा ही मिजाज देश के कोने-कोने में हैं। 2023 में तो कांग्रेस की छुट्टी हुई थी, लेकिन 2024 में उसका सफाया तय है।
 
प्रचार के लिए नहीं, जनता का आभार जताने आया हूं
मोदी ने कहा कि मेरी यात्रा को लेकर खूब चर्चाएं हो रही हैं। कई लोग कह रहे हैं कि मोदी  एमपी में झाबुआ से लोकसभा के चुनाव का आगाज करने आया है। लेकिन मोदी  यहां प्रचार करने नहीं आया, मैं तो एक सेवक के तौर पर ईश्वर रूपी जनता का आभार जताने आया हूं। आपने विधानसभा चुनाव में ही अपना मूड बता दिया है कि लोकसभा चुनाव में आप क्या करने जा रहे हैं। मोदी ने कहा कि भाजपा की डबल इंजन सरकारों के प्रति जनता का समर्थन बढ़ रहा है। इसलिए अब विपक्षी नेता भी यह स्वीकार करने लगे हैं कि ’24 में 400 पार’ और ’फिर एक बार-मोदी  सरकार’।

हर बूथ पर 370 वोट बढ़ाएं, भाजपा की सीटें बढ़ जाएंगी
मोदी ने कहा कि 24 में 400 पार के साथ ही मैं यह भी सुन रहा हूं कि अकेली भाजपा 370 से अधिक सीटें जीतेगी, लेकिन आप ये कैसे करेंगे? इसके लिए मैं आपको एक बूटी देता हूं। आप अपने बूथ के पिछले तीन चुनावों के रिजल्ट निकालें और ये देखें कि भाजपा को सबसे ज्यादा वोट कब और कितने मिले थे। उस संख्या को लिख लें। लोकसभा चुनाव में आप उसमें 370 वोट और जोड़ने का प्रयास करें। इसके लिए मतदाताओं के पास जाएं, उन्हें सरकार के काम बताएं और ये विश्वास दिलाएं कि जो काम अभी रह गए हैं, वो भी आगे हो जाएंगे। अगर आप हर बूथ पर 370 नए वोट जोड़ने में सफल हो जाते हैं, तो भाजपा का 370 पार होना पक्का है।

कांग्रेस ने न विकास की चिंता की, न समाज के लिए सोचा
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मध्यप्रदेश ने अलग-अलग दौर देखे हैं। एक आज का डबल इंजन वाली सरकार का दौर है और दूसरा दौर था कांग्रेस का काला काल। उस समय मध्यप्रदेश बीमारू राज्य था और उसकी वजह थी गांव, गरीब, आदिवासियों के प्रति कांग्रेस की नफरत। कांग्रेस की सरकारों ने न विकास की चिंता की, न समाज के लिए सोचा। उनके लिए आदिवासी सिर्फ वोटबैंक होते थे, जिनकी याद उन्हें चुनाव के समय ही आती थी। देश में पहली बार स्व. अटलजी की सरकार ने अलग से जनजातीय मंत्रालय बनाया और बजट दिया।

भाजपा की सरकार ने 90 वनोपजों के लिए एमएसपी घोषित की। उन्होंने कहा कि हमारे लिए आदिवासी वोट बैंक नहीं, बल्कि देश के गौरव और उज्ज्वल भविष्य की गारंटी हैं। इसीलिए हमने भगवान बिरसा मुंडा की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस घोषित किया और क्रांतिसूर्य टंट्या मामा के नाम पर यूनिवर्सिटी स्थापित की जा रही है। आदिवासी बच्चों को पढ़ाई के लिए मीलों पैदल न चलना पड़े, इसके लिए भाजपा की सरकार ने बीते 10 सालों में कांग्रेस की तुलना में चार गुना ज्यादा एकलव्य आवासीय स्कूल खोले। प्

रधानमंत्रीने कहा कि जनजातीय भाईयों की रोजी-रोटी वनोपज पर आधारित रही है, लेकिन कांग्रेस की सरकारों ने इस पर पहरे लगा दिए थे। हमारी सरकार ने आदिवासियों को उनके अधिकार लौटाए। मोदी ने कहा कि जनजातीय क्षेत्रों में सिकल सेल एनीमिया बच्चों की जान ले रहा था, लेकिन कांग्रेस ने इसकी चिंता नहीं की। लेकिन हमारे लिए आपकी जिंदगी मायने रखती है। हमने सिकल सेल एनीमिया के खिलाफ अभियान शुरू किया। ये नीयत का फर्क है।
 
वंचित और पिछड़े हमारी सरकार की प्राथमिकता
मोदी ने कहा कि कांग्रेस की सरकारों ने वर्षों तक जिन क्षेत्रों, जिन गांवों को विकास से दूर रखा, उनमें कौन रहता था? उनमें रहने वाले हमारे गरीब, वंचित और पिछड़े लोग ही थे। लेकिन हमारे लिए जो वंचित हैं, जो सबसे पिछड़े हैं, वो ही पहली प्राथमिकता हैं। हमारी सरकार आखिरी पायदान के लोगों को विकास में पहला दर्जा देती है। उनके लिए योजनाएं लागू कर रही है। सबसे पिछड़े लोगों के लिए हमारी सरकार ने पीएम जनमन योजना शुरू की है, जिससे उनका तेजी से विकास हो रहा है। पिछड़े इलाकों में हजारों करोड़ के काम कराए जा रहे हैं।

महलों की चिंता करती रही कांग्रेस
मोदी ने कहा कि हमारी सरकार इंफ्रास्ट्रक्चर के कामों पर विशेष ध्यान दे रही है। कांग्रेस की सरकार ने मध्यप्रदेश को रेल सुविधाओं के लिए 10 सालों में जितना पैसा दिया था, उससे 24 गुना ज्यादा पैसा हमारी सरकार ने दिया है। आज भी 3500 करोड़ की रेल परियोजनाओं का लोकार्पण हुआ है। हर सेक्टर में विकास के लिए हाथ खोलकर पैसा दिया जा रहा है। मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने जनजातीय बहुल इलाकों को सुविधाओं से वंचित रखा, क्योंकि उन्हें इन क्षेत्रों की फिक्र नहीं थी, वो तो महलों की चिंता में लगे रहते थे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की उपेक्षा ने देश-प्रदेश का जो नुकसान किया है, उसके गड्डे भरने के लिए हमारी सरकार लगातार मेहनत कर रही है।

प्रधानमंत्रीकी सौगातों से मध्यप्रदेश का होगा चहुंमुखी विकास : डॉ. मोहन यादव
प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश की धरती पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सुनने गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान और मध्यप्रदेश के दूरस्थ क्षेत्रों से आए सभी भाई-बहनों का स्वागत करता हॅू। मंच पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  का आना हम सबके लिए नहीं पूरे देश के जनजातीय भाई-बहनों के लिए सौभाग्य की बात है।

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 7550 करोड़ की 22 विकास परियोजनाओं की सौगात दी है। यह परियोजनाएं प्रदेश की दिशा और दशा बदलने का काम करेंगी। उन्होंने कहा कि खरगोन में क्रांतिवीर टंट्या मामा के नाम से विश्वविद्यालय चालू हो रहा है और इसी सत्र से पाठ्यक्रम शुरू हो जाएंगे, इसके लिए मैं प्रधानमंत्रीका हृदय से आभार व्यक्त करता हॅूॅ। प्रधानमंत्रीने प्रदेश को अनेकों सौगातें दी हैं इसके लिए हम प्रधानमंत्री का ह्दय से आभार व्यक्त करते हैं।

सम्मेलन को केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष समीर उरांव, जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कलसिंह भाबर ने भी संबोधित किया। संचालन अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय महामंत्री एवं सांसद गजेंद्र सिंह पटेल ने किया। इस दौरान मंच पर मध्य प्रदेश के राज्यपाल मंगुभाई पटेल, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा, केन्द्रीय मंत्री फग्गन सिंंह कुलस्ते, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश शासन के मंत्री विजय शाह, निर्मला भूरिया, नागरसिंह चौहान एवं सांसद जीएस डामौर उपस्थित थे। सम्मेलन में मध्यप्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र और गुजरात जनजातीय बंधु उपस्थित थे।

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

RO NO. 12737/143

Dinesh Purwar

Editor, Pramodan News

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button